बड़ी खबर, दारुल उलूम ने किया मदरसों के सर्वे का समर्थन

Last Updated: रविवार, 18 सितम्बर 2022 (13:06 IST)
हमें फॉलो करें
देवबंद। ने रविवार को 250 मदरसों के प्रतिनिधियों की बैठक के बाद उत्तरप्रदेश में मदरसों के सर्वे का समर्थन कर दिया। संगठन ने कहा कि सरकारी जमीन पर बने मदरसों पर कार्रवाई होनी चाहिए। उन्होंने मदरसों से भी सर्वे के दौरान सरकार का समर्थन करने की अपील की।

देवबंद में हुए सम्मेलन के बाद दारुल उलूम के प्रमुख अर्शद मदनी ने कहा कि सर्व कराना सरकार का हक है। उनके सवालों का जवाब दिया जाना चाहिए। अभी तक के सर्वे में कोई गड़बड़ी नहीं हुई। हमने कभी नहीं कहा कि एक समुदाय को टारगेट किया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश सरकार 10 सितंबर से राज्य में संचालित मदरसों का सर्वे करा रही है। हालांकि मदरसों की नाराजगी के बाद भी प्रदेशभर में कही भी सर्वे टीम को विरोध का सामना नहीं करना पड़ा है।
इससे पहले उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री दानिश आजाद अंसारी ने भी मदरसों की बेहतरी के लिए कराए जा रहे सर्वे के काम की तारीफ करते हुए कहा था कि विपक्षी दल इस मुद्दे पर भ्रम फैलाकर लोगों को गुमराह कर रहे हैं।

आजाद ने कहा कि सर्वे के बाद मदरसे न तो बंद होंगे और न ही उन पर बुलडोजर चलाया जाएगा। मदरसे बंद करने और इन पर बुलडोजर चलाने की बात कहकर विपक्षी दल मुसलमानों को भ्रमित कर रहे हैं।



और भी पढ़ें :