अखिलेश ने मनीष गुप्ता के परिजनों से बंद कमरे में की मुलाकात, कहा-पुलिस ने मिटाए साक्ष्य

Last Updated: गुरुवार, 30 सितम्बर 2021 (14:18 IST)
गोरखपुर। सपा सुप्रीमों ने गुरुवार को पुलिस की पिटाई में मारे गए मनीष गुप्ता की पत्नी मीनाक्षी गुप्ता और परिवार से बंद कमरे में की 30 मिनट तक बात की।
अखिलेश यादव ने हाई कोर्ट के सीटिंग जज से मामले की जांच कराने की मांग की। सपा नेता ने कहा कि पुलिस प्रशासन ने साक्ष्य मिटा दिए हैं।

उन्होंने पीड़ित परिवार को 20 लाख देने की घोषणा की। उत्तर प्रदेश सरकार से पीड़ित परिवार को 2 करोड़ मुआवजा देने की मांग की। अखिलेश यादव ने शैक्षिक योग्यता के अनुसार पीड़ित पत्नी को सरकारी नौकरी देने की मांग की।

उन्होंने कहा कि योगी राज में पुलिस लोगों की रक्षा नहीं कर रही, जान ले रही है। उत्तरप्रदेश में इस तरह की घटनाएं बार-बार ऐसी घटनाएं हो रही है।



और भी पढ़ें :