UP : अखिलेश यादव का ऐलान- SP की सरकार बनते ही सबसे पहले हटवाएंगे EVM

Last Updated: शुक्रवार, 5 मार्च 2021 (11:03 IST)
झांसी। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष ने गुरुवार को विश्वास जताया कि के आगामी विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी 350 से ज्यादा सीटें हासिल करेगी। उन्होंने कहा कि सत्ता में आने के बाद समाजवादी पार्टी इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (EVM) की व्यवस्था को खत्म करने के लिए अभियान चलाएगी।
ALSO READ:
Fact Check: की बंगाल रैली में भीड़ जुटाने के लिए बांटे गए पैसे? जानिए वायरल VIDEO का सच
अखिलेश ने यहां संवाददाता सम्मेलन में पर पूछे गए एक सवाल पर कहा कि ईवीएम के बारे में मैं आज भी कह रहा हूं कि उस पर किसी को भरोसा नहीं है। हाल में अमेरिका का चुनाव मतपत्रों से हुआ। उसमें भी कई दिनों तक मतगणना हुई। मतपत्रों से मतदान कराने पर लोगों का भरोसा बहाल होगा। हालांकि यह लड़ाई अभी लड़ी नहीं जा सकती।
उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि 'हम प्रशिक्षण शिविर चला रहे हैं। समाजवादी पार्टी से जुड़े सारे लोग अपना वोट डाल देंगे तो भाजपा अपने आप हार जाएगी। सत्ता में आने पर समाजवादी पार्टी ईवीएम की व्यवस्था खत्म करने के लिए अभियान चलाएगी। एक अन्य सवाल पर अखिलेश ने आरोप लगाया कि उत्तरप्रदेश में बिहार विधानसभा चुनाव जैसी स्थिति नहीं होगी। वहां तो महागठबंधन की सरकार बन रही थी, लेकिन भाजपा ने सत्ता छीन ली।
उन्होंने कहा कि उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा इतने बड़े अंतर से हारेगी, जिसकी किसी ने कल्पना भी नहीं की होगी। सपा 350 से अधिक सीटें जीतेगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा सपा की 'टोपी' पर निशाना साधे जाने के बारे में पूछे गए सवाल पर अखिलेश ने कहा कि समाजवादी पार्टी की टोपी का जो लाल रंग है वह हमारी क्रांति का, हमारे खून का रंग है और सबसे बड़ी बात यह कि यह हमारी भावनाओं का रंग है। मगर, हमारे मुख्यमंत्री के अंदर भावना ही नहीं है।
उन्होंने योगी पर हमला करते हुए कहा 'मुख्यमंत्री कहते हैं कि ढाई साल के बच्चे ने यह देख लिया कि कौन क्या है। हम भी कह रहे हैं कि एक तरफ लाल टोपी वाले की फोटो रख दें और एक तरफ खुद मुख्यमंत्री की फोटो रख दें। ढाई साल का बच्चा बता देगा कि कौन क्या है।' मुख्यमंत्री योगी ने हाल में विधानसभा में 'टोपी' पर तंज करते हुए कहा था कि अब तो ढाई साल का बच्चा भी जानता है कि टोपी वाला 'गुंडा' होता है।
अखिलेश ने भाजपा पर सोमवार को हाथरस में बेटी से छेड़छाड़ का मुकदमा वापस नहीं लेने पर आरोपी द्वारा पीड़िता के पिता की गोली मारकर हत्या किये जाने की घटना पर राजनीति करने का आरोप लगाया।

उन्होंने कहा 'मुख्यमंत्री ने सदन में जिस तरह की भाषा इस्तेमाल की है उससे लगता है कि यह सरकार बौखला गयी है। भाजपा की सरकार जाने वाली है, इसीलिये सरकार की भाषा बदल गयी है।'

सपा अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली केन्द्र सरकार ने राज्यसभा में बहुमत नहीं होने के बावजूद तीन कृषि कानून जबरन पारित करा लिये।
उन्होंने आरोप लगाया कि बहुमत का अनादर कर कानून पारित कराने का काम उत्तर प्रदेश की सरकार भी कर रही है। कानूनों को पारित कराने से पहले बहस होनी चाहिये। भाजपा लोकतंत्र को बिल्कुल खत्म करना चाहती है। (भाषा)



और भी पढ़ें :