1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. उत्तर प्रदेश
  4. 2 youths spit on kanwar in meerut kanwariyas jammed highway
Written By हिमा अग्रवाल
Last Updated: शनिवार, 23 जुलाई 2022 (23:51 IST)

मेरठ में संप्रदाय विशेष के युवकों ने कांवड़ पर थूका, दिल्ली-देहरादून हाईवे 58 पर हंगामा

मेरठ। दिल्ली-देहरादून हाईवे 58 पर आज कांवड़ियों ने जमकर हंगामा किया। राजस्थान के कांवड़ियों का जत्था हरिद्वार से जल लेकर अपने गंतव्य की तरफ बढ़ रहा था। कांवड़ियों का आरोप है कि दूसरे समुदाय के 2 युवकों ने डिवाइडर पार करके उनकी कांवड़ पर थूक दिया। इससे उनकी कांवड़ खंडित हो गई।

जैसे ही कांवड़ विधर्मी द्वारा खंडित करने की सूचना राजस्थान के अन्य शिवभक्तों लगी तो वे आग बबूला हो गए और उन्होंने सड़क जाम करते हुए हंगामा कर दिया। पुलिस ने इस मामले में एक युवक को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी।

इसी बीच किसी ने भ्रामक सूचना फैला दी कि एसपी सिटी की गाड़ी में आरोपी को ले जाया गया है और पुलिस ने कांवड़ियों का साथ न देकर आरोपी को बचाने का सहयोग कर रही है। इससे सूचना के फ्लैश होते ही भोले एक बार फिर से उत्तेजित हो गए और उन्होंने एसपी सिटी की गाड़ी को निशाना बनाते हुए शीशे तोड़ दिए। 
राजस्थान राज्य के जनपद भरतपुर के सीकरी गांव के रहने वाले हनी मुखीजा, दिशांत, लोकेश, कपिल, धीरज ,कपिल सचदेवा और जतिन आदि कावड़ियों ने एक विशाल कांवड़ तैयार की। इस कांवड़ को तैयार करने में लगभग 2 माह लग गए थे। 21 जुलाई को 40 शिवभक्तों का जत्था राजस्थान से विशाल कांवड़ लेकर हरिद्वार रवाना हुआ। इस मनमोहक कांवड को इस जत्थे ने मेरठ नेशनल हाईवे के बाहर एक कैंप पर लगा दिया।
सभी कांवडिए विश्राम कर रहे थे और थोड़ी-थोड़ी देर में कांवड़ को आकर देख भी रहे थे। आरोप है कि अचानक से डिवाइडर पर करके दो युवक दौड़ते हुए आए और उन्होंने कांवड़ पर थूक दिया, जिससे कांवड़ खंडित हो गई। 
 
जैसे ही यह खबर राजस्थान के जत्थे और अन्य कांवड़ियों को लगी तो वह आग-बबूला हो गए। किसी ने एक युवक को थूकने का आरोपी बताते हुए पकड़ लिया और उसके साथ मार पीट शुरू कर दी। जैसे-तैसे पुलिस आरोपी युवक को कांवड़ियों से छुड़ा कर चौकी में ले आई तो भोले और ज्यादा आग बबूला हो गए। उन्होंने पुलिस चौकी में तोड़फोड़ कर दी। बवाल की सूचना पर डीएम दीपक मीणा और एसएसपी रोहित सिंह सजवाण, एसपी सिटी विनीत भटनागर, एसपी ट्रैफिक जितेंद्र श्रीवास्तव समेत पुलिस मौके पर पहुंचकर कावड़ियों को मनाने में जुट गया। पुलिस को सफलता न मिलते देखकर एमएलसी धर्मेंद्र भारद्वाज भी मौके पर पहुंचे और हंगामा शांत करने का प्रयास करने लगे। 
मुस्लिम युवकों द्वारा कांवड़ खंडित होने से नाराज शिवभक्त नेशनल हाइवे 58 पर धरना देकर बैठ गए। इसके चलते इस मार्ग पर आने वाले वाहनों को कई किलोमीटर पहले रोक दिया गया। गुस्साए शिवभक्तों का हंगामा शांत न होने पर कई थानों की फोर्स और क्यूआरटी भी बुलाई गई। पुलिस के अथक प्रयासों के बाद कावड़िए शांत हुए। कांवडियों की मांग थी कि आरोपियों पर सख्त कार्रवाई की जाए।

पुलिस ने मामले की गंभीरता को समझते हुए मुकदमे के आदेश दे दिए हैं। मेरठ डीएम दीपक मीणा और एसएसपी रोहितसिंह सजवाण का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। कांवड़ से कोई छेड़छाड़ हुई है या यह किसी की शरारत है, यह जांच के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा। यदि कांवड़ खंडित करने का आरोप सिद्ध होता है तो दोषी बख्शे नहीं जाएंगे। 
 
फिलहाल पुलिस ने एक युवक हिरासत में ले लिया है। जिन कांवड़ियों की कांवड़ खंडित हुई है, पुलिस ने चारों को अपनी गाड़ी से पुलिस सिक्योरिटी के साथ पुनः गंगाजल लेने के लिए हरिद्वार रवाना कर दिया है। फिलहाल स्थिति शांतिपूर्ण है और कांवड़िए अपने गंतव्य की तरफ कूच कर गए हैं और पुलिस-प्रशासन ने कांवड़ मार्ग को फिर से सामान्य करवा दिया है।