निशंक बोर्ड व प्रवेश परीक्षाओं के बारे में छात्रों एवं अभिभावकों से करेंगे बातचीत

Ramesh Pokhriyal
Last Updated: शनिवार, 28 नवंबर 2020 (10:45 IST)
नई दिल्ली। केंद्रीय शिक्षामंत्री ने शुक्रवार को कहा कि अगले साल होने वाली प्रतियोगी एवं स्कूल बोर्ड परीक्षाएं छात्रों, शिक्षकों एवं अभिभावकों से संपर्क करने के बाद ही आयोजित की जाएंगी। निशंक ने कहा कि महामारी के दौर के बीच परीक्षा आयोजित करना किसी चुनौती से कम नहीं है।
ALSO READ:
मध्यप्रदेश : 30 नवंबर तक नहीं खुलेंगे कक्षा 1 से 8वीं तक के स्कूल, शिक्षा विभाग ने जारी किया आदेश
निशंक ने कहा कि कोविड-19 महामारी के कारण छाई अनिश्चितताओं के बावजूद बोर्ड परीक्षाएं एवं उच्च शिक्षण संस्थानों में नामांकन के लिए प्रवेश परीक्षाएं आयोजित करना बेहद चुनौतीपूर्ण है। मैं माता-पिताओं, छात्रों एवं ​शिक्षकों से इस बारे में करूंगा और इस बातचीत के परिणाम के आधार पर ही परीक्षाओं का आयोजन किया जाएगा। मैं समझता हूं कि 2020 छात्रों के ​लिए बढ़िया नहीं रहा है और वे अपने भविष्य को लेकर चिंतित हैं।
निशंक ने कहा कि मैं 3 दिसंबर को छात्रों के साथ ऑनलाइन बातचीत करूंगा और आसन्न प्रतियोगी एवं बोर्ड परीक्षाओं पर उनके साथ चर्चा होगी। पूरे देश में कोरोनावायरस संक्रमण के प्रसार के मद्देनजर मार्च से ही स्कूल बंद हैं। कुछ राज्यों ने 15 अक्टूबर से आंशिक रूप से स्कूल खोले हैं जबकि कुछ प्रदेशों ने स्कूलों को लगातार बंद रखने का निर्णय लिया है। (भाषा)



और भी पढ़ें :