टी-20 विश्वकप में भारत ने जीता पहला मैच, अफगानिस्तान को 66 रनों से हराकर सेमीफाइनल की उम्मीद को रखा जिंदा

Last Updated: बुधवार, 3 नवंबर 2021 (23:51 IST)
हमें फॉलो करें
छोटी दिवाली पर ने अपना पहला मैच जीता और 2 अंक के लंबे इंतजर को खत्म किया। को 66 रनों से हराने के बाद भारत ने ना केवल इस टूर्नामेंट की पहली जीत अर्जित की लेकिन 60 रनों से बड़ी जीत के कारण अपने सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीदों को भी जिंदा रखा है।

सलामी बल्लेबाजों रोहित शर्मा (74) और (69) के शानदार अर्धशतकों तथा उनके बीच 140 रन की ओपनिंग साझेदारी तथा गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन की बदौलत भारत ने अफगानिस्तान के खिलाफ आईसीसी टी 20 विश्व कप के ग्रुप दो के करो या मरो के मुकाबले में बुधवार को 66 रन से जीत हासिल कर अपनी उम्मीदों को कायम रखा।

भारत ने 20 ओवर में दो विकेट पर 210 रन का विशाल स्कोर बनाया और अफगानिस्तान को सात विकेट पर 144 के स्कोर पर रोककर तीन मैचों में अपनी पहली जीत हासिल की जबकिअफगानिस्तान को चार मैचों में दूसरी हार का सामना करना पड़ा।

अफगानिस्तान ने टॉस जीतकर पहले फील्डिंग करने का फैसला किया। रोहित और राहुल ने पूरे दबदबे के साथ शुरुआत की और अफगान गेंदबाजों को कोई मौका नहीं दिया। रोहित ने 47 गेंदों पर 74 रन की शानदार पारी में आठ चौके और तीन छक्के लगाए जबकि राहुल ने 48 गेंदों पर 69 रन में छह चौके और दो छक्के लगाए। दोनों ने ओपनिंग साझेदारी में 140 रन 14.4 ओवर में जोड़े। रोहित का विकेट 140 और राहुल का विकेट 147 के स्कोर पर गिरा।

इसके बाद मैदान पर उतरे ऋषभ पंत और हार्दिक पांड्या ने भी इस सिलसिले को जारी रखा और भारत को इस टूर्नामेंट में 200 रन बनाने वाली पहली टीम बनने का गौरव दिला दिया। पंत ने 13 गेंदों पर नाबाद 27 रन में एक चौका और तीन छक्के लगाए जबकि पांड्या ने 13 गेंदों पर नाबाद 35 रन में चार चौके और दो छक्के लगाए। पंत और पांड्या ने तीसरे विकेट की अविजित साझेदारी में 63 रन जोड़े।

अफगानिस्तान के गेंदबाज भारतीय बल्लेबाजों पर कोई असर नहीं छोड़ पाए।अफगानिस्तान के सबसे खतरनाक गेंदबाज राशिद खान ने अपने चार ओवर में 36 रन लुटाये जबकि नवीन उल हक़ चार ओवर में 59 रन लुटाकर काफी महंगे साबित हुए।

भारत के रोहित शर्मा अपनी शानदार पारी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच बने। भारत के गेंदबाजों ने अपने बड़े स्कोर के दम पर अफगानिस्तान के बल्लेबाजों पर दबाव बनाकर उन्हें गलतियां करने के लिए मजबूर किया।

तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने चार ओवर में 32 रन देकर तीन विकेट लिए जबकि चार साल बाद सफ़ेद गेंद क्रिकेट खेल रहे ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने चार ओवर में मात्र 14 रन देकर दो विकेट हासिल किये जसप्रीत बुमराह और रवींद्र जडेजा को एक-एक विकेट मिला। भारतीय खिलाड़ियों ने इस जीत से देश को छोटी दिवाली पर जीत का तोहफा दिया।

लक्ष्य का पीछा करते हुए अफगानिस्तान ने ओपनर मोहम्मद शहजाद को तीसरे ओवर की आखिरी गेंद पर गंवाया । शहजाद का खाता नहीं खुला। मोहम्मद शमी ने शहजाद को रविचंद्रन अश्विन के हाथों कैच कराया। दूसरे ओपनर हजरतुल्लाह जजई 15 गेंदों पर 13 रन बनाकर टीम के 22 रन के स्कोर पर आउट हो गए। रहमतुल्लाह गुरबाज 10 गेंदों में एक चौके और दो छक्कों की मदद से 19 रन बनाकर लेफ्ट आर्म स्पिनर रवींद्र जडेजा का शिकार बने।अश्विन ने गुलबदीन नायब 18 और नजीबुल्लाह जादरान 11 को आउट कर उन्हें वरुण चक्रवर्ती की जगह चुने जाने के फैसले को सही साबित कर दिया।

कप्तान मोहम्मद नबी ने 32 गेंदों पर 35 और करीम जनत ने 22 गेंदों पर तीन चौकों और दो छक्कों की मदद से नाबाद 42 रन बनाये। लेकिन अफगानिस्तान को बड़े अंतर से हार का सामना करना पड़ा।



और भी पढ़ें :