सेंसेक्स पहली बार 58 हजार के पार, रिलायंस के शेयर से मिली बाजार को मजबूती

पुनः संशोधित शुक्रवार, 3 सितम्बर 2021 (16:58 IST)
हमें फॉलो करें
मुंबई। सेंसेक्स शुक्रवार को 277 की तेजी के साथ पहली बार 58000 अंक के ऊपर बंद हुआ। वैश्विक स्तर पर कुल मिलाकर सकारात्मक रुख तथा विदेशी संस्थागत निवेशकों की तरफ से पूंजी प्रवाह बने रहने के बीच सूचकांक में मजबूत हिस्सेदारी रखने वाले रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर में तेजी से बाजार को मजबूत मिली।
तीस शेयरों पर आधारित संसेक्स 277.41 अंक यानी 0.48 प्रतिशत चढ़कर अब तक के उच्चतम स्तर 58,129.95 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह रिकार्ड 58,194 अंक तक चला गया था। इसी प्रकार, एनएसई निफ्टी 89.45 अंक यानी 0.52 प्रतिशत की तेजी के साथ रिकॉर्ड 17,323.60 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह रिकॉर्ड 17,340.10 अंक पर बंद हुआ।

सेंसेक्स के शेयरों में 4 प्रतिशत से अधिक की तेजी के साथ सर्वाधिक लाभ में रिलांयस इंडस्ट्रीज का शेयर रहा। इसके अलावा, टाइटन, टाटा स्टील, बजाज ऑटो, मारुति और डॉ. रेड्डीज भी प्रमुख रूप से लाभ में रहे। दूसरी तरफ गिरावट वाले शेयरों में एचयूएल, भारती एयरटेल, एचडीएफसी बैंक, एचडीएफसी और इंडसइंड बैंक शामिल हैं।

रिलायंस सिक्योरिटीज के रणनीति मामलों के प्रमुख विनोद मोदी ने कहा कि मुख्य रूप से धातु और वाहन शेयरों में तेजी से घरेलू मजबूत हुआ। आरआईएल में जोरदार तेजी से बाजार को समर्थन मिला। वित्तीय और दैनिक उपयोग का सामान बनाने वाली कंपनियों (एफएमसीजी) को छोड़कर ज्यादातर प्रमुख सूचकांक लाभ में रहे। मझोली तथा छोटी कंपनियों के शेयरों में लिवाली बनी रही। वहीं बाजार में जोखिम के स्तर को बताने वाला ‘वोलाटिलिटी इंडेक्स’ (उतार-चढ़ाव सूचकांक) 2 प्रतिशत ऊपर चढ़ा है।

उन्होंने कहा, अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व की तरफ से फिलहाल उदार नीतिगत रुख बनाए रखने के बयान के बाद मुख्य रूप से विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) के निवेश में तेजी तथा घरेलू पूंजी प्रवाह जारी रहने से निफ्टी इस सप्ताह करीब 3.5 प्रतिशत मजबूत हुआ...।

एशिया के अन्य बाजारों में शंघाई और हांगकांग नुकसान में रहे जबकि सियोल और टोक्यो में तेजी रही। यूरोप के प्रमुख बाजारों में दोपहर कारोबार में तेजी रही। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.51 प्रतिशत मजबूत होकर 73.40 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया।(भाषा)



और भी पढ़ें :