बाक ने कहा, ओलंपिक पर रूस की डोपिंग से दाग नहीं लगा

प्योंगयोंग| पुनः संशोधित रविवार, 25 फ़रवरी 2018 (21:31 IST)
प्योंगयोंग। अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) के अध्यक्ष ने इनकार किया है कि प्योंगयोंग शीतकालीन ओलंपिक खेलों पर की का दाग लगा लेकिन अधिकारियों ने रविवार को होने वाले समापन समारोह के लिए रूस का निलंबन बरकरार रखने के पक्ष में मतदान किया।

बाक ने कहा कि अगर डोपिंग रोधी अधिकारियों को प्योंगचांग में रूस के और खिलाड़ी डोपिंग के दोषी नहीं मिलते हैं तो देश के ओलंपिक प्रतिनिधित्व पर लगा प्रतिबंध स्वत: ही हट जाएगा। प्योंगचांग के अब तक रूस के दो खिलाड़ी डोपिंग के लिए पॉजीटिव पाए गए हैं।

आईओसी सूत्र ने कहा कि अगर खेलों से और पाजीटिव मामले सामने नहीं आते हैं तो ‘कुछ दिनों या कुछ हफ्तों’ में भी यह निलंबन हटाया जा सकता है। इससे पहले आईओसी ने सर्वसम्मति से रूस पर लगा प्रतिबंध बरकरार रखा जिससे देश के खिलाड़ी प्योंगचांग खेलों के समापन समारोह में रूस के ध्वज तले मार्च नहीं कर पाएंगे।

रूस को बड़े पैमाने पर ड्रग्स से जुड़ी धोखाधड़ी के कारण दिसंबर में 2018 ओलंपिक में हिस्सा लेने से प्रतिबंधित किया गया था लेकिन ‘पाक साफ’ माने गए 168 खिलाड़ियों को तटस्थ के रूप में प्योंगचांग में हिस्सा लेने की स्वीकृति दी गई। (भाषा)



और भी पढ़ें :