बुधवार, 24 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. खेल-संसार
  2. अन्य खेल
  3. समाचार
  4. PV Sindhu feels Paris Olympics to pose stern challenge before shuttlers
Written By WD Sports Desk
Last Updated : शुक्रवार, 9 फ़रवरी 2024 (13:36 IST)

पीवी सिंधु ने माना पेरिस ओलंपिक पेश करेगा उनके लिए सबसे बड़ी चुनौती

चुनौतीपूर्ण होगा पेरिस ओलंपिक, अधिक होशियार होने की जरूरत: सिंधु

PV Sindhu
चोटिल होने के कारण पिछले कुछ समय से बाहर रहने के बाद अब वापसी के लिए तैयार दो बार की ओलंपिक पदक विजेता पीवी सिंधु का मानना है कि पेरिस ओलंपिक चुनौतीपूर्ण होगा और उन्हें स्वर्ण पदक हासिल करने के लिए अधिक होशियार होना होगा।

पूर्व विश्व चैंपियन सिंधु पिछले कुछ समय से अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पा रही है। पिछले 18 महीनों में उन्हें चोटों और खराब फॉर्म से जूझना पड़ा।राष्ट्रमंडल खेल 2022 के दौरान उनके बाएं टखने में चोट लग गई थी जबकि पिछले साल अक्टूबर में फ्रेंच ओपन के दौरान उनका बायां घुटना चोटिल हो गया था।

सिंधु ने PTI (भाषा) से कहा,‘‘इस बार ओलंपिक में अलग तरह का अनुभव मिलने वाला है क्योंकि 2016 और 2020 के ओलंपिक पूरी तरह से भिन्न थे। पेरिस ओलंपिक अधिक चुनौतीपूर्ण होगा लेकिन मैं अब अधिक अनुभवी हो गई हूं और इस बार मुझे अधिक होशियारी से खेल खेलना होगा।’’

उन्होंने कहा,‘‘महिला सर्किट में शीर्ष 10 से 15 स्थान पर काबिज खिलाड़ी कड़ी चुनौती पेश करते हैं। ऐसे में अपने खेल पर ध्यान केंद्रित करना और अच्छी रणनीति के साथ कोर्ट पर उतरना महत्वपूर्ण हो जाता है जिससे आप अपनी शुरुआती रणनीति के नहीं चल पाने पर दूसरी रणनीति को अपना सको। शांतचित्त बने रहना महत्वपूर्ण है। मजबूत मानसिकता का होना बेहद अहम है।’’

फॉर्म में वापसी के लिए बेताब सिंधु ने पिछले साल की शुरुआत में कोरियाई कोच पार्क ताए-सांग से नाता तोड़ दिया था। अब उनके साथ पूरी तरह से नया सहयोगी स्टाफ है। वह वर्तमान में प्रकाश पादुकोण बैडमिंटन अकादमी (पीपीबीए) में इंडोनेशिया के एगस सैंटोसो की देखरेख में अभ्यास कर रही हैं।

सिंधु ने कहा,‘‘मेरे पास नया ट्रेनर, फिजियो, आहार विशेषज्ञ, कोच और मेंटर (मार्गदर्शक) है। इस तरह से सब कुछ नया है और वह जिस तरह से मेरी मदद कर रहे हैं उससे मैं खुश हूं।’’सिंधु 13 से 18 फरवरी के बीच मलेशिया में होने वाली बैडमिंटन एशिया टीम चैंपियनशिप से वापसी करेगी।

उन्होंने कहा,‘‘मैं बेहद भाग्यशाली हूं जो मुझे प्रकाश सर के साथ काम करने का मौका मिला क्योंकि वह महान खिलाड़ी हैं। अभ्यास के उनके तरीकों और सुझावों से मुझे मदद मिली। जहां तक एगस की बात है तो मैं उन्हें लंबे समय से जानती हूं।’’

सिंधु ने कहा,‘‘हमें याद देखना होगा कि मेरा प्रदर्शन कैसा रहता है। उम्मीद है कि आगे सब कुछ अच्छा होगा। मैंने पूर्ण फिटनेस हासिल कर ली है और मैं एशियाई टीम चैंपियनशिप में खेलने को लेकर उत्साहित हूं।’’
ये भी पढ़ें
Under-19 तेज गेंदबाज नमन तिवारी हैं बुमराह के बड़े फैन, कहा उन्हीं की टिप्स आ रही है काम