कोरोना वायरस के डर के बीच ओलंपिक मशाल जापान पहुंची

पुनः संशोधित शुक्रवार, 20 मार्च 2020 (19:42 IST)
टोक्यो। खतरनाक के डर के बीच की मशाल शुक्रवार को पहुंच गई। टोक्यो ओलम्पिक का आयोजन 24 जुलाई से 9 अगस्त तक होना है।

को एथेंस से लेकर एक चार्टर्ड विमान टोक्यो 2020 गो मत्सुशिमा मियागी स्थित जापान के वायुसेना ठिकाने पर शुक्रवार को पहुंचा। 3 बार के ओलम्पिक स्वर्ण विजेता तादहीरो नोमुरा और साओरी योशिदा ने विमान से मशाल को ग्रहण किया और इन्तजार कर रहे टोक्यो 2020 के अध्यक्ष योशिरो मोरी को सौंप दिया।

इन दोनों एथलीटों और मोरी को एथेंस में मशाल ग्रहण करने वाले समारोह में जापानी शिष्टमंडल का हिस्सा होना था लेकिन इस शिष्टमंडल को ही रद्द कर दिया गया था। समझा जाता है कि मोरी ने जापान फुटबॉल संघ के अध्यक्ष कोजो ताशिमा से मुलाकात की थी जो मंगलवार को कोरोना से संक्रमित पाए गए थे।

पूर्व जापानी प्रधानमंत्री मोरी ने कम संख्या में एकत्रित जनसमूह को कहा, 'मैं इस समारोह की सुरक्षित शुरुआत के लिए सबके प्रति अपना आभार व्यक्त करता हूं। पहले हमारा कार्यक्रम था कि मशाल के स्वागत के लिए छोटे बच्चों को लेकर जाए लेकिन सुरक्षा के कारण हमने ऐसा नहीं किया।'

मोरी ने स्वीकार किया कि यह दिल तोड़ने वाला फैसला था लेकिन उन्होंने साथ ही सुरक्षित ओलंपिक का वायदा किया। ओलंपिक मशाल के आगमन समारोह से दर्शकों को दूर रखा गया था और इस समारोह में छोटी संख्या में टोक्यो 2020 के अधिकारी शामिल हुए। जापान में मशाल रिले की शुरुआत 26 मार्च को फुकुशिमा से होगी।



और भी पढ़ें :