शेयर बाजार में तेजी के संकेत

भाषा| पुनः संशोधित रविवार, 3 जनवरी 2010 (11:33 IST)
चुनिंदा शेयरों में सतत लिवाली और आर्थिक विकास के बारे में प्रधानमंत्री मनमोहनसिंह के उत्साहवर्धक बयान के बाद सौदों की कमी को पूरा करने के लिए भारी लिवाली (शार्ट कवरिंग) से देशभर के प्रमुख शेयर बाजारों में तेजी का रूख रहा और सेंसेक्स लाभ के साथ बंद हुए।

नया साल के लिए नए लाभ का संकेत दे रहा है हालाँकि कारोबार के सीमित दायरे में भी रहने की उम्मीद की जा रही है। पिछले वर्ष की गतिविधियों को देखते हुए बाजार में तेजी बने रहने की उम्मीद है क्योंकि वित्तीय प्रणाली में नकदी पर्याप्त मात्रा में है।
जियोजित बीएनपी पारीबास फाइनेंसल सर्विसेज के शोध प्रमुख एलेक्स मैथ्यू ने कहा कि सोमवार को बाजार की अच्छी शुरुआत होगी तथा दिन के कारोबार में मुनाफावसूली हो सकती है, जिसके कारण कारोबार सीमित दायरे में रहने की संभावना है।

बंबई शेयर बाजार में समीक्षाधीन सप्ताह के दौरान भारी शार्ट कवरिंग गतिविधियों के कारण यहाँ लगातार दूसरे सप्ताह शेयर बाजार में तेजी आई।
बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों पर आधारित सेंसेक्स 17,530.94 से 17,322.80 अंक के दायरे में घूमने के बाद सप्ताहांत में विगत सप्ताहांत के मुकाबले 104.20 अंकों की तेजी के साथ 17,464.81 अंक पर बंद हुआ।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 22.65 अंक अथवा 0.44 प्रतिशत की तेजी के साथ सप्ताहांत में 5,201.05 अंक पर बंद हुआ।

प्रधानमंत्री मनमोहनसिंह ने कहा था कि वर्ष 2008 के वैश्विक मंदी से बाधित हुए विकास के गति पकड़ने की उम्मीद है और यह वर्ष 2009-10 में सात प्रतिशत से थोड़ा अधिक रहने की संभावना है। भारतीय अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर 30 सितंबर को समाप्त तिमाही में 7.9 प्रतिशत रही जो छह तिमाहियों की सर्वाधिक तेजी है।
विदेशी निधियों ने वर्ष के दौरान भारतीय शेयरों में 29 दिसंबर तक 83,070.09 करोड़ रुपए का निवेश किया जिसके कारण वर्ष 2009 में सेंसेक्स में 81.03 प्रतिशत की तेजी आई। बाजार सूत्रों ने बताया कि वैश्विक मजबूती के संकेतों के कारण भी बाजार की तेजी को बल मिला।

भारत के निजी क्षेत्र की विशालतम कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर में 1.32 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई। ऋण उठान में तेजी की उम्मीद में बैंकिंग खंड के शेयरों में भी तेजी आई। भारतीय स्टेट बैंक द्वारा तीसरी तिमाही में 1,795 करोड़ रुपए के अग्रिम कर अदा करने से भी इसके शेयर में 2.32 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई जबकि आईसीआईसीआई बैंक के शेयर में 1.51 प्रतिशत की तेजी आई।
नवंबर 2009 में भारी बिक्री के कारण ऑटो क्षेत्र में हाल की तेजी बरकरार रही। में 1.62 प्रतिशत, महिन्द्रा एंड महिन्द्रा में 1.78 प्रतिशत की तेजी आई।

कलकत्ता शेयर बाजार में समीक्षाधीन सप्ताह के दौरान आखिरी तीन सत्रों में सूचकांक में 115.68 अंकों की तेजी आई। कलकत्ता सूचकांक 7,303.72 अंक पर खुला और सप्ताहांत में 7,419.40 अंक पर बंद हुआ। (भाषा)



और भी पढ़ें :