इन 10 बातों या संकेतों से जानिए कि हनुमानजी प्रसन्न हैं आप पर

अनिरुद्ध जोशी|
हनुमानजी बहुत ही जागृत देव हैं और वे सभी युगों में साक्षात विद्यमान हैं। वे बहुत ही जल्द प्रसन्न होने वाले देवता हैं। उनकी कृपा आप पर निरंतर बनी रहे। आओ जानते हैं कि किन बातों और संकेतों से पता चलेगा कि रामदूत हनुमानजी की हम पर कृपा है या वह हमसे प्रसन्न हैं।

1. यदि आपके हाथों में मंगल रेखा स्पष्ट नजर आ रही है तो निश्‍चित ही हनुमानजी की आप पर कृपा है। अब शर्त यह है कि आप बुराइयों से दूर रहेंगे तो लाभ ही लाभ होगा।


2. यदि कुंडली में मंगल मेष, वृश्चिक या मकर राशि में है या सूर्य-बुध एक ही जगह पर बैठे हैं या दसवें भाव में मंगल है तो माना जाता है कि यह मंगल नेक है। मंगल नेका का अर्थ है कि हनुमानजी की आप पर कृपा है।

3. यदि आपका जिगर मजबूत है, ऊपर का होंठ बड़ा और अच्‍छा है, रक्त एकदम शुद्ध है और आंखों की ज्योति सही है तो माना जाता है कि मंगल शुभ है। मंगल के शुभ होने के अर्थ है कि आप पर हनुमाजी की कृपा है।


4. यदि आपको हनुमानी या रामजी सपने में किसी भी प्रकार से दर्शन देते हैं तो समझो आप पर उनकी कृपा है।


5. यदि आपके घर में रामायण पाठ होता रहता हैं या राम जप चलता रहता है या नियमित रूप से आप चालीसा पढ़ते रहते हैं तो निश्‍चित ही आप पर हनुमानजी की कृपा है। हनुमानजी जिस पर भी प्रसन्न रहते हैं वह व्यक्ति भयमु‍क्त और निर्भिक जीवन जीता है। ऐसे जातक के जीवन में किसी भी प्रकार का संकट नहीं होता है।


6. निर्भिक, साहसी और शक्तिशाली होकर भी आप नेक न्यायप्रिय और विनम्र हैं तो निश्चित ही आपसे हनुमानजी प्रसन्न हैं। जैसे आप एक अच्छे लीडर, सैनिक, पुलिस या उच्चपदासिन अधिकारी होकर भी विनम्र और सच्चे हैं तो हनुमानजी की आप पर कृपा बनी रहेगी।

7. हनुमानजी यदि प्रसन्न हैं तो ऐसे जातक हर क्षेत्र में प्रगति करते हैं। उसके जीवन में किसी भी प्रकार की बाधा और कष्ट नहीं होता है। उसके हर कार्य आसानी से होते जाते हैं। उसके जीवन में स्थायित्व आ जाता है।

8. यदि आप मन, वचन और कर्म से एक और पवित्र हैं। अर्थात आपकी कथनी और करनी में भेद नहीं है तो आप समझ लें कि हनुमानजी की आप पर कृपा है। आप कभी भी झूठ नहीं बोते हैं, किसी भी प्रकार का नशा नहीं करते, मांस का भक्षण नहीं करते और अपने परिवार के सदस्यों से प्रेमपूर्ण संबंध बनाए रखते हैं तो निश्‍चित ही आप पर हनुमानजी की कृपा है तभी तो आप ऐसा नहीं करते हैं।

9. आप पर किसी भी प्रकार से शनि की साढ़े साती, ढैया या अन्य किसी भी तरह की शनि पीड़ा का असर नहीं होता है तो निश्‍चित ही आप पर हनुमानजी की कृपा हैं।

10. यदि आपसे आपके बड़े या छोटे भाई एवं सभी मित्र प्रसन्न रहते हैं और आगे रहकर आपकी मदद करते हैं तो निश्‍चित मान लीजिए की आप पर हनुमानजी प्रसन्न हैं।

यह भी पढ़ें



और भी पढ़ें :