क्या रद्द हो जाएगा ममता बनर्जी का नामांकन? भाजपा ने की चुनाव आयोग को शिकायत

Last Updated: मंगलवार, 14 सितम्बर 2021 (15:23 IST)
कोलाकाता। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में नंदीग्राम सीट से चुनाव हारने के बाद राज्य की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी के लिए भबानीपुर सीट से उपचुनाव जीतना बहुत जरूरी है। इस बीच, भाजपा ने ममता के नामांकन पर ही सवाल उठा दिया है। इस सीट के लिए 30 सितंबर को मतदान होगा।

भाजपा ने रिटर्निंग ऑफिसर को लिखे पत्र में शिकायत की है कि ममता ने नामांकन दाखिल करते समय अपने खिलाफ दर्ज पांच पुलिस मामलों के बारे में जानकारी नहीं दी है। भबानीपुर में भाजपा ने प्रियंका टिबरेवाल को ममता के खिलाफ उतारा है। हालांकि ने भाजपा के आरोपों का खंडन किया है।
भाजपा उम्मीदवार प्रियंका टिबरीवाल के चुनाव एजेंट ने की है। दूसरी ओर, तृणमूल कांग्रेस का कहना है कि ममता बनर्जी को केवल उन मामलों का खुलासा करने की आवश्यकता थी, जिनमें आरोप पत्र में उनका नाम है।

आपको बता दें कि ममता के लिए भबानीपुर उपचुनाव जीतना बहुत जरूरी है। यदि ममता उपचुनाव हारा जाती हैं तो वे मुख्‍यमंत्री पद पर नहीं रह पाएंगी। संविधान के अनुसार कोई भी जनप्रतिनिधि बिना चुनाव जीते मंत्री अथवा मुख्‍यमंत्री तो बन सकता है, लेकिन उसे छह माह में चुनाव जीतना जरूरी होता है। अन्यथा उसे पद छोड़ना पड़ता है। विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी नंदीग्राम से शुभेन्दु अधिकारी से चुनाव हार गई थीं।



और भी पढ़ें :