PM मोदी नाथूराम गोडसे में रखते हैं आस्था, स्वीकारने की हिम्मत नहीं : राहुल गांधी

Rahul Gandhi
पुनः संशोधित गुरुवार, 30 जनवरी 2020 (13:06 IST)
वायनाड। नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी वायनाड दौरे पर हैं। यहां 'संविधान बचाओ रैली' को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने विवादित बयान दिया है। राहुल गांधी ने कहा कि नाथूराम गोडसे और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की विचारधारा एक ही है। बस नरेन्द्र मोदी में यह कहने की हिम्मत नहीं है कि वे नाथूराम गोडसे में आस्था रखते हैं।
ALSO READ:
राहुल गांधी का केंद्र सरकार पर बड़ा प्रहार, कहा- अपनी युवा पूंजी को बर्बाद कर रहा है हिन्दुस्तान
राहुल गांधी ने कहा कि हिन्दुस्तानियों को यह साबित करना पड़ रहा है कि वे भारतीय हैं। नरेन्द्र मोदी कौन होते हैं यह निर्धारित करने वाले कि मैं भारतीय हूं। उन्हें यह लाइसेंस किसने दिया है कि वे निर्णय करें कि कौन भारतीय है या कौन नहीं है? मैं जानता हूं कि मैं भारतीय हूं। मुझे यह किसी को साबित करने की जरूरत नहीं है।
रोजगार और अर्थव्यवस्था के मामले पर पर राहुल गांधी ने मोदी सरकार का घेराव करते कहा कि जब भी आप नरेन्द्र मोदी से बेरोजगारी और नौकरियों के बारे में सवाल करते हैं तो वे ध्यान भटकाने लगते हैं।

राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) और राष्ट्रीय संशोधन अधिनियम (सीएए) आपको नौकरियां नहीं देने वाली हैं। राहुल गांधी की रैली की शुरुआत वायनाड के कलपेटा इलाके से शुरू हुई। राहुल गांधी के साथ कांग्रेस कई कार्यकर्ता भी रैली में शामिल हैं।



और भी पढ़ें :