Prophet Controversy : पश्चिम बंगाल में छिटपुट प्रदर्शनों के बीच स्थिति सामान्य, भारी पुलिसबल तैनात

पुनः संशोधित सोमवार, 13 जून 2022 (15:30 IST)
हमें फॉलो करें
कोलकाता। पश्चिम बंगाल के हिंसा प्रभावित जिलों में सोमवार को कुछ इलाकों में छिटपुट विरोध-प्रदर्शनों के बीच स्थिति सामान्य है। इन इलाकों में भारी पुलिस बलों की तैनाती की गई है। कुछ क्षेत्रों में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू की गई है। तोड़फोड़ की वारदात में 25 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।
अधिकारियों ने यह जानकारी दी। अधिकारियों ने बताया कि प्रदर्शनकारियों द्वारा रेलवे पटरियों को जाम करने के बाद सुबह पूर्वी रेलवे के सियालदह-हशनाबाद खंड में ट्रेन सेवाएं प्रभावित हुईं। उन्होंने बताया कि प्रदर्शनकारियों ने पटरियों को जाम करने के लिए टायरों में आग लगा दी थी और भारतीय जनता पार्टी की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा के पुतले जलाए।

वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, लगभग 20 मिनट तक सेवाएं प्रभावित रहीं। उत्तर 24 परगना के हसनाबाद स्टेशन के आसपास भारी तैनात है। हावड़ा, मुर्शिदाबाद और नदिया जिलों में भी भारी पुलिसबल तैनात दिखा। कुछ क्षेत्रों में अपराध प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू की गई है।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि नदिया के बेथुंदाहरी में हुए दंगे में कथित संलिप्तता के आरोप में कम से कम 25 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने कहा, हमने रविवार को हुई तोड़फोड़ की वारदात में 25 लोगों को गिरफ्तार किया है। घटना में शामिल अन्य लोगों की तलाश जारी है।

स्थानीय कारोबारियों ने इलाके में 72 घंटे के बंद का आह्वान किया है। अधिकारियों ने बताया कि बेथुंदाहरी रेलवे स्टेशन पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ कथित आपत्तिजनक टिप्पणियों को लेकर रविवार को यहां एक ट्रेन में तोड़फोड़ की गई थी।(भाषा)



और भी पढ़ें :