उत्तराखंड : नैनीताल में भारी बारिश से बाढ़ जैसे हालात, दहशत में आए शहरवासी

एन. पांडेय| Last Updated: सोमवार, 18 अक्टूबर 2021 (22:45 IST)
हमें फॉलो करें
नैनीताल। के शहर नैनीताल में भारी से हालात गंभीर हो चले हैं।नैनीताल के चारों तरफ से जो शहर में एंट्री के लिए सड़कें हैं सब के सब की जद में आ जाने से शहर का संपर्क पूरे देश-दुनिया से कट गया है। पिछले वीक एंड में जो पर्यटक नैनीताल आए थे आज सुबह तक नहीं निकले थे वे शहर से बाहर निकलने की कोशिश में जा रहे हैं तो पुलिस भूस्खलन से उत्पन्न हुए हालातों को देख उनको शहर में वापस लौटा रही है।
शहर की मॉल रोड और नैना देवी मन्दिर में झील का पानी घुस जाने से के जैसे हालात पैदा होने से भी शहरवासी दहशत में आ गए।नैना देवी मंदिर परिसर में झील का पानी चढ़ आया। इस कारण झील के सभी गेट खोलकर सिंचाई विभाग ने झील में जलस्तर को काबू में करने की कोशिश की है। समीपवर्ती भीमताल झील में भी पानी का लेवल बढ़ जाने से उसके भी सभी गेट खोलने पड़े हैं।गेटों को खोल देने से जिले के नैदानी क्षेत्रों में नदियों का जलस्तर बढ़ने का खतरा पैदा हो गया है।

भारी बारिश से शहर में ठंडी सड़क के किनारे अयारपाटा पहाड़ी में स्थित कुमाऊं विश्वविद्यालय के एसआर होस्टल का बरामदा ढह गया, जबकि होस्टल की बुनियाद तक भूस्खलन पहुंच जाने के कारण इस होस्टल को तत्काल खाली करवाना पड़ा।इस होस्टल में रह रही छात्राओं को छात्रावास में शिफ्ट कराया गया है। होस्टल भवन को खतरे की जद में बताया जा रहा है।

शहर के कई क्षेत्रों में भूस्खलन से हालात खराब हुए हैं। नैनीताल जिले के रामनगर में कोसी नदी अपने उफान पर पहुंच चुकी है।प्रशासन ने मैदानी क्षेत्रों में भी अलर्ट जारी कर दिया है।कोसी नदी का जलस्तर अपने उच्चतम स्तर पर पहुंच चुका है।सोमवार शाम करीब 7 बजे के बाद कोसी नदी का जलस्तर 45 हजार क्यूसेक पर बह रहा है।

नैनीताल शहर के रूसी बाईपास और कालाढुंगी रोड में अत्यधिक वर्षा होने से नालों का पानी मार्ग में आ जाने से मार्ग पूर्णरूप से अवरूद्ध है। वीरभट्टी के पास अत्यधिक मात्रा में मलबा आ जाने से मार्ग पूर्णरूप से अवरोध है। खैरना के पास मलबा आ जाने के कारण मार्ग पूर्णरूप से अवरूद्ध है।विनायक पदमपुर भीमताल में मलबा आ जाने के कारण मार्ग पूर्णरूप से अवरोध है।

राष्ट्रीय राजमार्ग 121/309 में गर्जिया चौकी से आगे मोहान के बीच में पनोद व धनगढ़ी के नालें उफान में होने के कारण मार्ग पूर्णरूप से बाधित है। कॉर्बेट रामनगर के पास मलबा आ जाने के कारण मार्ग पूर्णरूप से बाधित है। विनायक मार्ग पदमपुरी भीमताल के पास मलबा आ जाने के कारण मार्ग पूर्णरूप से अवरूद्ध है।

अत्यधिक वर्षा होने के कारण किसी सुरक्षित स्थान पर रूकने की अपील पुलिस प्रशासन यात्रियों से कर रहा है। यह भी अपील पुलिस कर रही है कि किसी बड़े पेड़ व खिसकने वाली चट्टानों या पहाड़ के आसपास न रूकें।



और भी पढ़ें :