विधायक ससुर पर बहू ने लगाया दहेज प्रताड़ना का आरोप

Last Updated: शुक्रवार, 23 जुलाई 2021 (09:16 IST)
मुख्य बिंदु
  • पर बहू का आरोप
  • सोशल मीडिया पर पोस्ट डाली
  • सलमान खान की बहन‍ विधायक के पक्ष में
मंडी। हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के सदर से भाजपा विधायक अनिल शर्मा के परिवार की लड़ाई सोशल मीडिया के माध्यम से उजागर हुई है। इस परिवार की बड़ी बहू राधिका ने सोशल मीडिया पर पोस्ट डालकर अपने ससुर भाजपा विधायक अनिल शर्मा पर दहेज प्रताड़ना के गंभीर लगाए। इसके बाद अनिल शर्मा ने अपनी छोटी बहू यानी सलमान खान की बहन अर्पिता खान शर्मा की तरफ से भेजे गए संदेश को सोशल मीडिया पर शेयर करके परिवार की अंतरकलह को जगजाहिर कर दिया। राधिका अनिल शर्मा की बड़ी बहू और आश्रय शर्मा की पत्नी है। राधिका का मायका दिल्ली में है और इनके पिता राजीव गंभीर कांग्रेस नेता हैं। क्रिकेटर गौतम गंभीर राधिका के चचेरे भाई हैं।
राधिका ने शाम करीब 7 बजे अपने फेसबुक पेज पर पोस्ट डालकर इसमें उन्होंने ससुर अनिल शर्मा द्वारा भेजे गए नोटिस की कॉपी को शेयर किया और लिखा कि आज मेरे ससुर ने मुझे हमारे होटल में सैलून चलाने के लिए नोटिस भेजा है। दहेज प्रताड़ना के 6 साल बाद जब मेरे परिवार ने उनको और पैसे देने से मना कर दिया तो उन्होंने मुझे यह नोटिस भेजा है। आज मेरे ससुराल वालों से मेरे सारे संबंध टूट गए हैं। यह सब सिर्फ इसलिए कि उन्हें अपने मंत्रालय से इस्तीफा देना पड़ा था। पैसे और सत्ता की भूख सब जानते हैं। 9 महीने की गर्भवती होने पर उन्होंने मुझे घर से निकाल दिया। एक शख्स जो 93 साल की उम्र के अपने ही पिता को घर से निकाल सकते हैं और अपने ही बेटे के साथ ऐसा कर सकते हैं, मैं उससे क्या उम्मीद कर सकती हूं। अगर मेरा परिवार यानी सदर के लोग मेरे साथ खड़े हैं तो मुझे किसी बात का डर नहीं है। हम पीछे हटने वाले नहीं हैं।


इस पारिवारिक कलह के उलट सलमान खान की बहन अर्पिता खान शर्मा ने विधायक अनिल शर्मा का पक्ष लेते हुए कहा कि अनिल शर्मा मेरे ससुर ही नहीं, बल्कि मेरे पिता हैं और वे एक आदर्शवादी इंसान हैं। मैं हैरान हूं कि राधिका ने इस तरह के आरोप कैसे लगा दिए। हमारी शादी में दहेज जैसी कोई बात नहीं हुई थी। यहां तक कि अनिल शर्मा ने उपहार तक लेने से इनकार कर दिया था। राधिका ने अनिल शर्मा की वर्षों की मेहनत को मिट्टी करने की कोशिश की है। मैं अपने ससुर अनिल शर्मा के साथ खड़ी हूं और जो आरोप लगाए जा रहे हैं वे बेबुनियाद और निजी स्वार्थ के लिए ही हैं।

सारी बातों का यही निष्कर्ष निकल रहा है कि अनिल शर्मा और उनके बेटे तथा बहू के बीच पारिवारिक संबंध पिछले काफी लंबे समय से ठीक नहीं चल रहे थे और ये बातें कभी सामने नहीं आतीं अगर होटल को लीज पर न देते और बहू को नोटिस न भेजा जाता। लेकिन सोशल मीडिया ने परिवार की आंतरिक कलह खोलकर रख दी।



और भी पढ़ें :