हर की पौड़ी के सभी गंगा घाट सील, मकर संक्रांति पर पसरा रहा सन्नाटा

एन. पांडेय| Last Updated: शुक्रवार, 14 जनवरी 2022 (13:08 IST)
हमें फॉलो करें
हरिद्वार। पर में हर की पौड़ी के सभी गंगा घाटों को कर दिए जाने से इन घाटों पर सन्नाटा पसरता रहा। पिछले सालों तक देश के कोने-कोने से आए श्रद्धालु हर की पैड़ी पर गंगा में डुबकी लगाकर पुण्य अर्जित करते थे। लेकिन बढ़ते कोरोना संक्रमण के कारण इस साल जिला प्रशासन ने मकर संक्रांति स्नान पर रोक लगा दी।
ALSO READ:

मकर संक्रांति और पोंगल पर्व में है 6 खास अंतर, जानिए

हरिद्वार के सीओ सिटी शेखर सुयाल के मुताबिक हरिद्वार आने का प्रयास कर रहे श्रद्धालुओं को बॉर्डर पर सघन चेकिंग अभियान चलाकर वापस लौटाया जा रहा है। सूर्य भगवान के मकर राशि में प्रवेश के होते ही आज मकर संक्रांति से देवों के दिन शुरू हो जाएंगे और मुंडन, यज्ञोपवीत, विवाह आदि सभी मांगलिक कार्यों की शुरुआत भी हो जाएगी। आज के दिन गंगा में स्नान करने का बहुत बड़ा महत्व माने जाने से आज स्नान के बाद खिचड़ी का भोजन किया जाता है।


मकर संक्रांति के स्नान पर विश्वप्रसिद्ध हर की पौड़ी पर होने वाली गंगा आरती कोरोना के कारण बिना श्रद्धालुओं के की गई। मेला क्षेत्र को जीरो जोन बनाए रखने को 6 जोन और 11 सेक्टरों में बांटा गया है। जोनल मजिस्ट्रेट और सेक्टर मजिस्ट्रेट नियुक्त कर श्रद्धालुओं को किसी भी हाल में हर की पौड़ी क्षेत्र में नहीं जाने से रोकने की जिम्मेदारी दी गई है।



और भी पढ़ें :