देहरादून की हवा सांस लेने लायक नहीं, हरिद्वार का भी हाल बेहाल

एन. पांडेय| पुनः संशोधित शनिवार, 6 नवंबर 2021 (07:58 IST)
हमें फॉलो करें
देहरादून। देहरादून में दिवाली की रात हुई आतिशबाजी से देहरादून की हवा सांस लेने लायक नहीं रह गई है। उत्तराखंड प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा जारी वायु प्रदूषण के आंकड़ों के मुताबिक दिवाली की रात देहरादून की आबोहवा वायु प्रदूषण के लिहाज से सबसे ज्यादा खतरनाक थी। में हवा की गुणवत्ता बेहद खराब।

बोर्ड द्वारा देहरादून, ऋषिकेश, हरिद्वार, काशीपुर, हल्द्वानी और रुद्रपुर में एयर क्वालिटी इंडेक्स के सैंपल कलेक्ट करने के लिए अलग-अलग स्टेशन स्थापित किए गए थे। इससे 28 अक्टूबर से लेकर 4 नवंबर तक के सैंपल कलेक्ट हुए।

4 नवंबर यानी दिवाली की रात देहरादून और हरिद्वार में हवा की गुणवत्ता सबसे ज्यादा खराब रही, तो वहीं ऋषिकेश, काशीपुर, हल्द्वानी और रुद्रपुर में भी स्थिति खराब है। लेकिन, सबसे ज्यादा वायु प्रदूषण देहरादून और हरिद्वार में हुआ है। देहरादून में सबसे ज्यादा घंटाघर पर लगाए गए स्टेशन पर एयर क्वालिटी इंडेक्स 327 था। नेहरू कॉलोनी स्टेशन पर कलेक्ट किए गए सैंपल में एयर क्वालिटी इंडेक्स 306 था।
देहरादून का एवरेज AQI 327 रहा। उत्तराखंड प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अनुसार यह सबसे खतरनाक है। हरिद्वार का एयर क्वालिटी इंडेक्स 321 था और यह भी बहुत ज्यादा खराब है। दिवाली की रात काशीपुर का AQI- 267, रुद्रपुर का AQI- 263, ऋषिकेश का AQI- 257 और हल्द्वानी का AQI- 251 रहा, जो कि पर्यावरण के लिहाज से ठीक नहीं है।



और भी पढ़ें :