शुक्रवार, 19 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. प्रादेशिक
  4. 6 people arrested for threatening the victim in Shrikant Tyagi case
Written By
Last Modified: सोमवार, 8 अगस्त 2022 (11:20 IST)

श्रीकांत त्यागी मामला : पीड़िता को धमकाने वाले 6 लोग गिरफ्तार, इनके कुछ साथी अब भी फरार

श्रीकांत त्यागी मामला : पीड़िता को धमकाने वाले 6 लोग गिरफ्तार, इनके कुछ साथी अब भी फरार - 6 people arrested for threatening the victim in Shrikant Tyagi case
नोएडा (उत्‍तर प्रदेश)। नोएडा पुलिस ने एक महिला के साथ अभद्रता करने के आरोपी श्रीकांत त्यागी के समर्थन में पीड़ित महिला के साथ बदसलूकी करने और उसे धमकाने के आरोप में 6 लोगों को गिरफ्तार किया है।जबकि इनके कुछ साथी फरार हैं। पुलिस उनकी तलाश कर रही है। इन सभी के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि सभी आरोपी गाजियाबाद के रहने वाले हैं। गिरफ्तार लोगों के कुछ साथी मौके से भाग निकले। पुलिस उनकी तलाश कर रही है। प्रवक्ता ने बताया कि सेक्टर 93-बी स्थित एक सोसायटी में रहने वाली पीड़ित महिला के घर रविवार रात लोकेंद्र त्यागी, राहुल त्यागी, रवि पंडित, प्रिंस त्यागी, नितिन त्यागी, चर्चिल राणा सहित 10 से अधिक लोग पहुंचे।

इन लोगों ने श्रीकांत त्यागी के खिलाफ मामला दर्ज कराने वाली महिला के साथ बदसलूकी की और उसे धमकाया।उन्होंने बताया कि मौके पर पहुंची पुलिस ने छह लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। इनके कुछ साथी फरार हैं। पुलिस उनकी तलाश कर रही है। इन सभी के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

गौरतलब है कि महिला ने सेक्टर-93बी में आवासीय सोसायटी में नियमों के उल्लंघन का हवाला देते हुए श्रीकांत त्यागी द्वारा कुछ पेड़ लगाने पर आपत्ति जताई थी, जिसके बाद त्यागी ने महिला के साथ अभ्रद व्यवहार किया और उसे धक्का भी दिया था। घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर प्रसारित हो गया था। मामला दर्ज होने के बाद से ही त्यागी फरार है।

आरोपी श्रीकांत त्यागी के खिलाफ पहले से ही हत्या के प्रयास सहित विभिन्न धाराओं के तहत मामले दर्ज हैं। वह खनन के कारोबार में भी संलिप्त है। उसके भारतीय जनता पार्टी का करीबी होने की बात भी कही जा रही है।

करीब 10 साल पहले पाकिस्तान के नंबर से मिली धमकी के बाद वह चर्चा में आया था। इस संबंध में शिकायत करने के बाद उसे पुलिस सुरक्षा दी गई थी, जिसको लेकर भी विवाद है कि आखिर उसे सुरक्षा किस आधार पर दी गई थी।(भाषा)
ये भी पढ़ें
अरबपति कारोबारी मुकेश अंबानी ने लगातार दूसरे साल नहीं लिया वेतन