0

बलराम जयंती 2020 : जब बलराम दाऊ के क्रोध से मच गया था कोहराम,कांप गए थे कौरव

रविवार,अगस्त 9, 2020
Balarama Jayanti 2020
0
1
Balarama Jayanti 2020 : बलराम जयंती 9 अगस्त 2020 यानी आज मनाई जाएगी। प्रभु बलराम को भगवान विष्णु के 8वां अवतार माना गया है। इस दिन भगवान शेषनाग ने द्वापर युग में श्रीकृष्ण के बड़े भाई के रूप में जन्म लिया था। जानिए 10 प्रमुख बातें...
1
2
9 अगस्त 2020 यानी आज बलराम जयंती का पर्व (Balarama Jayanti Festival) मनाया जा रहा है। इस दिन को भगवान श्री कृष्ण के बड़े भाई बलराम के जन्मदिवस के रूप में मनाया जाता है।
2
3
एक नगर में दो स्त्रियां रहती थीं। दोनों एक ही परिवार की थीं और रिश्ते में देवरानी-जेठानी लगती थीं। देवरानी का नाम सलोनी था जो बड़ी ही नेक, सदाचारिणी तथा दयालु थी। जेठानी का नाम तारा था, वह स्वभाव से बड़ी ही दुष्ट थी।
3
4
हलछठ पर्व 9 अगस्‍त 2020, रविवार को मनाया जा रहा है। इस दिन महिलाएं संतान प्राप्ति अथवा अपनी संतान की रक्षा के लिए यह व्रत रखती हैं।
4
4
5
हलषष्ठी व्रत श्रीकृष्ण के ज्येष्ठ भ्राता श्री बलरामजी के जन्मोत्सव के रूप में मनाया जाता है। इसी दिन श्री बलरामजी का जन्म हुआ था। हल षष्ठी की व्रतकथा यह है।
5
6
भाद्रपद महीने में जन्‍माष्‍टमी के अलावा भी कई प्रमुख बड़े व्रत त्‍योहार आते हैं। इन्‍हीं में से एक हल छठ। उत्‍तर भारत में इसे भगवान कृष्‍ण के ज्‍येष्‍ठ भ्राता बलरामजी के जन्‍मोत्‍सव के रूप में मनाते हैं
6
7
गोगाजी राजस्थान के लोक देवता हैं जिन्हें 'जाहरवीर गोग राणा के नाम से भी जाना जाता है। राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले का एक शहर गोगामेड़ी है।
7
8
भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष की पंचमी तिथि को गोगा पंचमी का त्‍योहार मनाया जाता है। इस दिन गोगादेव और नाग देवता की पूजा की जाती है। इस वर्ष यह त्योहार 8 अगस्त 2020, शनिवार को मनाया जा रहा है।
8
8
9
बहुला चतुर्थी व्रत से संबंधित एक बड़ी ही रोचक कथा प्रचलित है। जब भगवान विष्णु का कृष्ण रूप में अवतार हुआ तब इनकी लीला में शामिल होने के लिए देवी-देवताओं ने भी गोप-गोपियों का रूप लेकर अवतार लिया।
9
10
वर्ष 2020 में शुक्रवार, 7 अगस्त को बहुला चतुर्थी व्रत मनाया जाएगा। बहुला चतुर्थी व्रत में गौ पूजन को बहुत महत्व दिया गया है।
10
11
कजली तीज की पौराणिक व्रत कथा के अनुसार एक गांव में एक गरीब ब्राह्मण रहता था। भाद्रपद महीने की कजली तीज आई।
11
12
इस बार 6 अगस्त 2020, गुरुवार को कजली तीज पर्व मनाया जा रहा है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार रक्षाबंधन के तीन दिन बाद और कृष्ण जन्माष्टमी से पांच दिन पहले जो तीज आती है
12
13
अगस्त माह में हिन्दू माह श्रावण मास समाप्त होकर नया भादो अर्थात भाद्रपद लग रहा है। इस माह में कई बड़े और महत्वपूर्ण व्रत और त्योहार रहेंगे। आओ जानते हैं कि कौन कौन से प्रमुख व्रत एवं त्योहार रहेंगे।
13
14
शनिवार के दिन आने वाली प्रदोष (त्रयोदशी) तिथि पर शनि प्रदोष व्रत किया जाता है। इस दिन भगवान शिवजी और शनिदेव का पूजन-अर्चन किया जाता है। पढ़ें शनि प्रदोष के संबंध में वर्णित पौराणिक कथा
14
15
भाई दूज और रक्षा बंधन का त्योहार दोनों ही भाई बहन के रिश्तों से जुड़ा हुआ त्योहार है। रक्षा बंधन जहां हिन्दू माह श्रावण माह की पूर्णिमा को मनाया जाता है वहीं भाई दूज कार्तिक शुक्ल पक्ष की द्वितीया को मनाया जाता है। भाई दूज दीपावली के पांच दिनी ...
15
16
उत्तर भारत में रक्षा बंधन वाले दिन अर्थात भद्रपद की पूर्णिमा को राखी का त्योहार मनाया जाता है, जबकि दक्षिण भारत में समुद्री क्षेत्रों में नारियल पूर्णिमा का त्योहार मनाया जाता है। आओ जानते हैं नारियल पूर्णिमा की पांच खास बातें।
16
17
श्रावण मास में माता पार्वती के व्रत उपवास भी आते हैं। श्रावण मास के प्रति मंगलवार मंगला गौरी का व्रत रखा जाता है... माता पार्वती का यह रूप बहुत दयालु हैं, इसलिए श्री पार्वती चालीसा से उन्हें प्रसन्न कर सौभाग्य का वरदान पाया जा सकता है...
17
18
मंगल योग के कारण अगर आपकी शादी विवाह में रुकावट आ रही है या और देरी हो रही हैं तो श्रावण मास में मंगलवार को आने वाला मंगला गौरी व्रत आपके लिए लाभदायी साबित हो सकता है।
18
19
श्रावण मास में आने वाले सभी मंगलवार को मंगला गौरी व्रत किया जाता है। इस बार श्रावण में 4 मंगलवार पड़ रहे हैं। पहला मंगलवार 7 जुलाई को था, दूसरा 14 जुलाई, तीसरा 21 जुलाई को और चौथा मंगलवार 28 जुलाई 2020 को मनाया जाएगा।
19