वर्चुअल डिजिटल मॉल : अब घर बैठे करें मॉल में ऑनलाइन खरीददारी

नई दिल्ली| Last Updated: रविवार, 9 जून 2019 (14:33 IST)
नई दिल्ली। ई-कॉमर्स में आ रही तेजी और इस क्षेत्र में दुनिया की बड़ी-बड़ी कंपनियों के उतरने के बीच लोगों को घर बैठे मॉल में शॉपिंग कराने का अनुभव प्रदान करने और सीधे दुकान में खरीददारी जैसे सेवाएं उपलब्ध कराने के उद्देश्य से देश में शीघ्र ही डिजिटल मॉल शुरू होने जा रहा है।
योकेशिया मॉल्स प्राइवेट लिमिटेड ने कमर्शियल रियल इस्टेट और डिजिटल प्रौद्योगकी का उपयोग करते हुए 'डिजिटल मॉल ऑफ एशिया' नाम से शुरू करने की घोषणा की है, जहां सिर्फ ब्रांडेड उत्पादों की बिक्री होगी।

डिजिटल मॉल ऑफ एशिया के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी ऋषभ मेहरा ने यहां इस अनूठी परिकल्पना का उल्लेख करते हुए कहा कि एक नया बिजनेस मॉडल विकसित किया गया है, जहां ब्रांडेड स्टोर संचालित करने वाले अपने संबंधित शहर के डिजिटल मॉल में दुकान खरीद सकते हैं या किराए पर ले सकते हैं, क्योंकि इसमें सिर्फ संबंधित शहर में ही उत्पाद बेचने का अधिकार होगा।
यह शुरू होगा वर्चुअल मॉल : उन्होंने कहा कि इसके लिए प्लेटफॉर्म बनाने का काम लगभग पूरा हो चुका है और अब इसका परीक्षण शुरू किया जाएगा। अभी सिर्फ नोएडा में परीक्षण किया जाएगा, लेकिन इसे देश के 20 प्रमुख शहरों में शुरू करने की तैयारी है। वर्ष 2021 तक दुनिया के 8 देशों तक विस्तार की योजना है और इसके लिए रियल इस्टेट क्षेत्र को सेवाएं प्रदान करने वाली दिग्गज कंपनियों से चर्चा चल रही है।
उन्होंने कहा कि दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद, गुरुग्राम, मुंबई, बेंगलुरु, चेन्नई, हैदराबाद, पुणे, चंडीगढ़, जयपुर, चेन्नई और मैसूर जैसे शहरों के साथ ही चीन, जापान, दक्षिण कोरिया, सिंगापुर, मलेशिया, थाईलैंड और इंडोनेशिया में डिजिटल मॉल शुरू करने की योजना है।

कितना होगा दुकान का किराया : मेहरा ने कहा कि इस मॉल के प्रचार-प्रसार पर 250 करोड़ रुपए निवेश करने की योजना बनाई गई है। इसमें 10 हजार से लेकर 50 हजार रुपए तक में किराए पर दुकान ली जा सकेगी। इसके लिए उनकी कंपनी बड़े-बड़े ब्रांडों के साथ ही रिटेल ब्रांडेड स्टोर संचालित करने वालों से भी संपर्क कर रही है।
उन्होंने कहा कि इसमें दुकान संचालित करने वालों के लिए कुछ दिशा-निर्देश तैयार किए गए हैं जिसमें ग्राहक ऑनलाइन खरीद करेंगे, लेकिन वास्तविक अनुभव दुकान में खरीददारी जैसा होगा। इस मॉल में किसी वस्तु की बुकिंग किए जाने के बाद संबंधित दुकानदार ग्राहक के यहां अपने कर्मचारी के माध्यम से उस वस्तु की आपूर्ति करेगा और भुगतान प्राप्त करेगा। इसके लिए किसी दुकानदार से कमीशन नहीं लिया जाएगा बल्कि उन्हें किराया देना होगा।
ग्राहकों को मिलेगी यह सुविधा : ग्राहक वस्तु को देखने के बाद भुगतान कर सकेगा जिससे ऑनलाइन खरीद में होने वाली धोखाधड़ी से भी बचा जा सकेगा और बेहतर गुणवत्ता भी सुनिश्चित हो सकेगी।

मेहरा ने कहा कि डिजिटल मॉल में हर उत्पाद के लिए अलग-अलग फ्लोर होंगे। इसके साथ वित्तीय सेवाओं, शिक्षा, फूड कोर्ट, मल्टीप्लेक्स, नाइट क्लब आदि भी होंगे जहां संबंधित क्षेत्र में प्रसिद्ध ब्रांड अपना स्टोर शुरू कर सकेंगे। (वार्ता)
फाइल फोटो



और भी पढ़ें :