ट्विटर ने क्‍यों कम किए आपके फॉलोअर्स, क्‍या थी इसके पीछे की वजह?

Last Updated: शुक्रवार, 3 दिसंबर 2021 (14:57 IST)
हाल ही में पराग अग्रवाल ने दुनिया की सबसे बड़ी सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर के सीईओ का पद संभाला है, इस खबर के दूसरे दिन ही कई लोगों के ट्‍वि‍टर अकांउट से फॉलोअर्स की संख्‍या घटने लगी। रातों रात हड़कंप मच गया कि आखि‍र क्‍यों फॉलोअर्स की संख्‍या घट रही है। कई लोगों के मन में यही सवाल कौंधा कि आखिर क्‍यों उनके फॉलोअर्स अचानक से कम होने लगे?

दरअसल, फॉलोअर्स कम होने से लोगों को घबराने के जरूरत नहीं है। ऐसा आमतौर पर कई सोशल प्लेटफॉर्म पर होता है, जब लोगों के फॉलोअर्स या सब्सक्राइबर्स कम हो जाते हैं। चाहे वो सोशल साइट हो या यूट्यूब जैसा वीडि‍यो प्‍लेटफॉर्म।

जानते हैं क्‍या कारण है फॉलोअर्स घटने के?
ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि कंपनियां बोट्स (एक तरह के फेक अकाउंट) को हटाती हैं। ये ऐसे अकाउंट होते हैं जो ट्विटर पर फेक न्यूज या प्रोपेगेंडा फैलाते हैं। इन्‍हें बोट्स कहा जाता है। एक साल के भीतर कंपनियां ऐसे फेक अकाउंट्स को हटा देती हैं। हाल ही में ट्विटर ने जो किया वो इसी कम्युनिटी गाइडलाइन के तहत किया।

दूसरी वेबसाइट्स भी हटाती है ऐसे अकांउट
हमने अभी तक यही जाना कि ट्विटर ने ऐसा किया है, लेकिन सच यह है बोट्स यानी फेक अकांउट को हटाने का काम फेसबुक, इंस्टाग्राम, यूट्यूब जैसे प्लेटफॉर्म भी करते हैं। नए IT नियमों को बाद से सभी सोशल प्लेटफॉर्म को ऐसे अकाउंट्स पर बैन लगाना अनिवार्य हो गया है जिनके खिलाफ किसी तरह की शिकायत मिलती है, या फिर जो फेक कंटेंट को बढ़ावा दे रहे हैं। जैसे, सितंबर में वॉट्सऐप ने 20 लाख से ज्यादा अकाउंट को बैन कर दिया था।

कैसे होती है यह प्रोसेस?
आपका अकाउंट फेक है या नहीं, इसका पता लगाने के लिए एक पूरी प्रोसेस को फॉलो किया जाता है। फेक अकाउंट की पहचान के लिए कंपनियां सिक्योरिटी का लेवल लगातार बढ़ा रही हैं। जैसे, अकाउंट का टू-स्टेप वैरिफिकेशन किया जाता है। इसके लिए मोबाइल नंबर की जरूरत होती है, यूजर को अपना अकाउंट फोन नंबर से जोड़ने के लिए कहा जाता है। ऐसे में यदि किसी ने बहुत सारे फेक अकाउंट बना रखे हैं तब वो सभी के लिए फोन नंबर नहीं दे पाता है। इससे पता चल जाता है कि वो अब तक फेक अकाउंट हैंडल कर रहा था। ऐसे में उन अकाउंट्स को बैन कर दिया जाता है।

आपको क्‍या फायदा?
फॉलोअर्स हटाने से दरअसल आपको ही फायदा होता है। इससे आपको फायदा यह होता है कि मान लीजिए आपको 1000 लोगों ने फॉलो कर रखा है, उनमें से 10 अकाउंट ऐसे हैं जो सक्रि‍य नहीं है या फेक हैं तो वो आपकी किसी पोस्‍ट को लाइक, कमेंट और शेयर नहीं करेंगे, ऐसे में आपको रीच नहीं मिलेगी, कंपनी ऐसे ही फेक और निष्‍क्र‍िय अकाउंट को हटा देती है।



और भी पढ़ें :