तृणमूल कांग्रेस का नया चुनावी नारा, बंगाल को अपनी बेटी चाहिए

Last Updated: शनिवार, 20 फ़रवरी 2021 (15:46 IST)
कोलकाता। पश्चिम बंगाल चुनावों के लिए ने नया चुनावी नारा 'बांग्ला नीजेर मेय के ई चाए' जारी किया है। हिन्दी में इसका मतलब है 'बंगाल को अपनी बेटी चाहिए'।
सुब्रत बख्शी, पार्थ चटर्जी, डेरेक ओ ब्रायन, शुखेंदु शेखृ रॉय, काकोली घोष दस्तीदार और सुब्रत मुखर्जी ने टीएमसी के इस स्लोगन को जारी किया। टीएमसी के इस स्‍लोगन को पूरे राज्‍य में लगवाया गया है।

इस नारे के साथ बनर्जी की फोटो वाले होर्डिंग समूचे कोलकाता में लगाये गये हैं। सत्तारूढ़ पार्टी ने ईएम बाईपास के पास स्थित अपने मुख्यालय से आधिकारिक रूप से इसकी शुरुआत की।
तृणमूल कांग्रेस के महासचिव पार्थ चटर्जी ने कहा, 'राज्य के लोग अपनी बेटी चाहते हैं जो पिछले कई साल से मुख्यमंत्री के रूप में उनके साथ है। हम बंगाल में किसी बाहरी को नहीं लाना चाहते हैं।'
उल्लेखनीय है कि अप्रैल-मई में होने वाले पश्चिम बंगाल चुनावों के लिए तृणमूल कांग्रेस का मुकाबला भाजपा से है। भाजपा ने ममता का गढ़ जीतने के लिए ऐड़ी चोटी का जोर लगा रखा है। राज्य में कई दिग्गजों ने चुनाव से पहले भाजपा छोड़ टीएमसी में शामिल होकर ममता की पार्टी को बड़ा झटका दिया है।
बहरहाल तृणमूल ने इस स्‍लोगन से एक बार फिर पार्टी में नई जान फूंक दी है। इसके जरिए पार्टी यह संदेश देने का प्रयास कर रही है कि ममता बंगाल की बेटी हैं और भाजपा बाहरी शक्ति।



और भी पढ़ें :