RBI ने महिला सहकारी बैंक पर लगाया अंकुश, निकासी की सीमा 5 हजार रुपए तय

पुनः संशोधित सोमवार, 8 नवंबर 2021 (23:12 IST)
मुंबई। भारतीय रिजर्व बैंक ने सोमवार को महाराष्ट्र स्थित बाबाजी दाते महिला सहकारी बैंक, पर कई अंकुश लगाए। इनमें ग्राहकों के लिए 5000 रुपए की निकासी की सीमा भी शामिल है। केंद्रीय बैंक ने की वित्तीय स्थिति के बिगड़ने के बीच यह कदम उठाया है।
रिजर्व बैंक ने एक बयान में कहा कि बैंकिंग विनियमन अधिनियम 1949 के तहत प्रतिबंध आठ नवंबर, 2021 को कारोबार बंद होने से छह महीने तक लागू रहेंगे और समीक्षा के अधीन हैं। यवतमाल का यह सहकारी बैंक अब रिजर्व बैंक की मंजूरी के बिना कोई भुगतान नहीं कर सकता और न ही कोई ऋण या अग्रिम दे सकता है।

इसके अलावा रिजर्व बैंक की मंजूरी के बिना बैंक कोई भुगतान नहीं कर सकेगा, किसी तरह की व्यवस्था में शामिल नहीं होगा और न ही अपनी संपत्तियों को बेच या स्थानांतरित कर सकेगा।

बयान में कहा गया है, बैंक की मौजूदा नकदी की स्थिति को देखते हुए सभी बचत बैंक या चालू खाता या अन्य खाताधारक अपने खातों से 5000 रुपए से अधिक की राशि नहीं निकाल सकेंगे।(भाषा)




और भी पढ़ें :