मंगलवार, 16 जुलाई 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. राष्ट्रीय
  4. Prime Minister Narendra Modi's Kashmir visit
Last Modified: श्रीनगर , शुक्रवार, 21 जून 2024 (00:27 IST)

PM मोदी का कश्‍मीर दौरा, बोले- आतंकियों को बख्शा नहीं जाएगा, वह दिन दूर नहीं जब...

PM मोदी का कश्‍मीर दौरा, बोले- आतंकियों को बख्शा नहीं जाएगा, वह दिन दूर नहीं जब... - Prime Minister Narendra Modi's Kashmir visit
Prime Minister Narendra Modi's Kashmir visit : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बृहस्पतिवार को कहा कि जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं और वह दिन दूर नहीं जब केंद्र शासित प्रदेश के लोग अपनी सरकार का चुनाव करेंगे तथा अपना राज्य का दर्जा वापस हासिल करेंगे।
 
तीसरी बार प्रधानमंत्री बनने के बाद घाटी के अपने पहले दौरे में मोदी ने श्रीनगर में 1,500 करोड़ रुपए की 84 विकास परियोजनाओं की आधारशिला रखी और उद्घाटन किया। जम्मू क्षेत्र में हाल की आतंकी घटनाओं का संज्ञान लेते हुए उन्होंने हमलों को अंजाम देने वालों को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा कि उन्हें मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा।
 
वह दिन दूर नहीं जब आप अपने वोट के जरिए अपनी सरकार चुनेंगे : उन्होंने हाल में संपन्न लोकसभा चुनाव में रिकॉर्ड मतदान और 35 साल का रिकॉर्ड तोड़ने के लिए जम्मू-कश्मीर के लोगों को बधाई दी और कहा कि वह दिन दूर नहीं जब आप अपने वोट के जरिए अपनी सरकार चुनेंगे। प्रधानमंत्री ने कहा, आप इसके लिए बधाई के पात्र हैं... अब समय आ गया है कि जम्मू एवं कश्मीर के लोग अपने वोट के माध्यम से अपनी सरकार चुनें। इसके लिए विधानसभा चुनाव कराने की तैयारी की जा रही है।
 
मोदी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर का राज्य का दर्जा भी बहाल किया जाएगा। उन्होंने लोकसभा चुनाव में भारी मतदान के लिए जम्मू-कश्मीर के युवाओं की प्रशंसा की और कहा कि उन्होंने लोकतंत्र की जीत सुनिश्चित की है। मोदी ने हाल के दिनों में जम्मू-कश्मीर में हुई आतंकवादी घटनाओं का उल्लेख करते हुए देश को आश्वस्त किया कि दुश्मनों को सबक सिखाने में वह कोई कोर कसर बाकी नहीं छोड़ेंगे।
प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि इंसानियत के दुश्मनों को जम्मू एवं कश्मीर की तरक्की पसंद नहीं है और आज वे यहां का विकास रोकने के लिए आखिरी कोशिश कर रहे हैं। यहां शेर-ए-कश्मीर अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन केंद्र में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि केंद्र शासित प्रदेश में आज सही मायने में भारत का संविधान लागू हुआ है क्योंकि सबको बांटने वाले अनुच्छेद 370 की दीवार अब गिर चुकी है। 
 
दुश्मनों को जम्मू-कश्मीर की तरक्की पसंद नहीं : उन्होंने कहा, अमन और इंसानियत के दुश्मनों को जम्मू-कश्मीर की तरक्की पसंद नहीं है। आज वो आखिरी कोशिश कर रहे हैं कि जम्मू-कश्मीर का विकास रुक सके। प्रधानमंत्री ने कहा, हाल ही में जो आतंकी वारदातें हुईं हैं, उन्हें सरकार ने बहुत गंभीरता से लिया है। मैं आपको आश्वस्त करता हूं कि जम्मू-कश्मीर के दुश्मनों को सबक सिखाने में कोई कोर कसर बाकी नहीं छोड़ेंगे।
दो दिवसीय दौरे पर यहां पहुंचे मोदी शुक्रवार को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस कार्यक्रम में शामिल होंगे। कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री ने 1,500 करोड़ रुपए की 84 विकास परियोजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन किया। प्रधानमंत्री ने 1,800 करोड़ रुपए की लागत वाली कृषि और संबद्ध क्षेत्रों में प्रतिस्पर्धात्मकता सुधार (जेकेसीआईपी) परियोजना की भी शुरुआत की। उन्होंने जम्मू-कश्मीर में सरकारी नौकरियों के लिए 2000 से अधिक लोगों को नियुक्ति पत्र वितरित किए।
 
मोदी ने कहा कि आज जम्मू-कश्मीर में विकास के हर मोर्चे पर बड़े पैमाने पर काम हो रहा है तथा इसके तहत यहां हजारों किलोमीटर नई सड़कें बनी हैं तथा कश्मीर घाटी रेल संपर्क से भी जुड़ रही है। चिनाब नदी पर बने दुनिया के सबसे बड़े रेलवे ब्रिज का उल्लेख करते हुए मोदी ने कहा कि इसकी तस्वीरें देखकर तो हर भारतवासी गर्व से भर उठता है।
 
जनता को सिर्फ हम पर विश्वास है : लोकसभा चुनाव के नतीजों का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि जनता को सिर्फ हम पर विश्वास है और इस विश्वास व उनकी आकांक्षाओं को हमारी सरकार ही पूरा कर सकती है। उन्होंने कहा, जनता को हमारी नीयत और नीतियों पर भरोसा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि उनके नेतृत्व वाली पिछली सरकार के प्रदर्शन के आधार पर 60 साल के बाद तीसरी बार किसी सरकार को देश में जनादेश मिला है। मोदी ने कहा, लोकसभा चुनाव में मिले जनादेश का बहुत बड़ा संदेश स्थिरता का है।
 
उन्होंने कहा, अब भारत स्थिर सरकार के नए दौर में प्रवेश कर चुका है। इससे हमारा लोकतंत्र और मजबूत हुआ है तथा इस लोकतंत्र की मजबूती में जम्मू एवं कश्मीर की आवाम की, आप लोगों की बहुत बड़ी भूमिका रही है। अटल जी ने जो इंसानियत, जम्हूरियत और कश्मीरियत का विजन दिया था उसे आज हम हकीकत में बदलते देख रहे हैं। आपने इस चुनाव में जम्हूरियत को जिताया है। आपने पिछले 35-40 साल का रिकॉर्ड तोड़ा है।
 
अनुच्छेद 370 की दीवार अब गिर चुकी : प्रधानमंत्री ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में आज सही मायने में भारत का संविधान लागू हुआ है और ये सबकुछ हो रहा है, क्योंकि सबको बांटने वाले अनुच्छेद 370 की दीवार अब गिर चुकी है। उन्होंने कहा, मैं देश के लिए दिन-रात जो भी कर रहा हूं, नेक नीयत से कर रहा हूं। मैं बहुत ईमानदारी से, समर्पण भाव से जुटा हूं ताकि कश्मीर की पिछली पीढ़ियों ने जो भुगता है, उससे बाहर निकलने का रास्ता बनाया जा सके।
मोदी ने कहा कि कश्मीर के हलचल भरे बाजार और प्रतिष्ठित लाल चौक क्षेत्र में रात में रौनक हर भारतीय के दिल को खुशी से भर देती है। पिछले 10 वर्षों में कश्मीर में हुए विकास के बारे में बात करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि दुनिया घाटी में हाल के बदलावों की गवाह है। उन्होंने कहा कि जी20 शिखर सम्मेलन के दौरान घाटी के लोगों के आतिथ्य सत्कार की दुनिया लगातार प्रशंसा कर रही है।
 
उन्होंने कहा, घाटी में जी20 शिखर सम्मेलन जैसे वैश्विक आयोजन ने कश्मीर के लोगों को गौरवान्वित किया है। प्रधानमंत्री मोदी ने इस साल मार्च में डल झील के किनारे आयोजित ‘स्पोर्ट्स कार शो’ को याद करते हुए कहा कि पूरी दुनिया ने इसे देखा। उन्होंने कहा, यह कार्यक्रम घाटी में हुई प्रगति का प्रमाण है।
 
हर भारतीय का दिल खुशी से भर जाता है : मोदी ने कहा कि लाल चौक पर देर शाम तक बच्चों को खेलते देख हर भारतीय का दिल खुशी से भर जाता है और इसी तरह घाटी के चहल-पहल वाले बाजार भी सबके चेहरे पर रौनक बिखेर देते हैं। प्रधानमंत्री का इशारा 2014 में केंद्र में भाजपा के पहली बार सत्ता में आने के बाद से कश्मीर में आए बदलावों की ओर था। मोदी ने कहा कि इस क्षेत्र में पर्यटकों का आगमन और जो रिकॉर्ड टूटे हैं, वे शहर में चर्चा का विषय बन गए हैं।
उन्होंने कहा, कल का अंतरराष्ट्रीय योग दिवस कार्यक्रम यहां और भी अधिक पर्यटकों को आकर्षित करेगा। उपराज्यपाल मनोज सिन्हा का हवाला देते हुए मोदी ने कहा कि घाटी में दो करोड़ से अधिक पर्यटकों का आंकड़ा रिकॉर्ड तोड़ है और यह स्थानीय अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण योगदान देने वाला है। (भाषा)
Edited By : Chetan Gour 
ये भी पढ़ें
NEET UG Paper Leak Case : मुख्य आरोपी ने कबूली प्रश्नपत्रों की व्यवस्था करने की बात, प्रत्येक परीक्षार्थी से की 40 लाख रुपए की मांग