मंगलवार, 16 जुलाई 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. राष्ट्रीय
  4. NEET-UG exam question paper leak case
Last Modified: पटना , शुक्रवार, 21 जून 2024 (00:52 IST)

NEET UG Paper Leak Case : मुख्य आरोपी ने कबूली प्रश्नपत्रों की व्यवस्था करने की बात, प्रत्येक परीक्षार्थी से की 40 लाख रुपए की मांग

NEET UG Paper Leak Case : मुख्य आरोपी ने कबूली प्रश्नपत्रों की व्यवस्था करने की बात, प्रत्येक परीक्षार्थी से की 40 लाख रुपए की मांग - NEET-UG exam question paper leak case
NEET-UG exam question paper leak case : राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा स्नातक (NEET-UG) 2024 प्रश्न पत्र लीक मामले में मुख्य आरोपी सिकंदर प्रसाद यादवेंदु ने 4 परीक्षाओं के लिए प्रश्नपत्रों की व्यवस्था करने की बात स्वीकार की है। यादवेंदु ने अपने बयान में कहा कि परीक्षार्थियों को परीक्षा से एक दिन पहले तैयारी करने के लिए कहा गया और प्रत्येक परीक्षार्थी से 40 लाख रुपए की मांग की गई।
बिहार पुलिस की आर्थिक अपराध इकाई (ईओयू) के सूत्रों के अनुसार, पांच मई को आपराधिक प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 161 के तहत दर्ज किए गए यादवेंदु के बयान में नीट-यूजी जैसे प्रतिष्ठित परीक्षा पेपर लीक करने के लिए जाने जाने वाले नीतीश कुमार और अमित आनंद के साथ उसके संपर्कों का भी विवरण दिया गया है।
यादवेंदु ने दावा किया कि उन्होंने परीक्षा से एक दिन पहले चार मई को लीक प्रश्नपत्र उपलब्ध कराने के लिए अपने भतीजे अनुराग यादव समेत प्रत्येक अभ्यर्थी से 40 लाख रुपए की मांग की थी। पटना जिला के दानापुर नगर परिषद के कनिष्ठ अभियंता यादवेंदु ने कहा, मैंने नीतीश और अमित से संपर्क किया और उन्हें बताया कि मेरे पास चार परीक्षार्थी आयुष कुमार, अनुराग यादव, अभिषेक कुमार और शिवनंदन कुमार हैं।
यादवेंदु ने दावा किया कि नीतीश और अमित ने प्रति परीक्षार्थी 32 लाख रुपए लिए और उन्हें पहले से प्रश्नपत्र उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया। यादवेंदु ने यह भी दावा किया कि चार मई को सभी चार परीक्षार्थियों को एक गेस्ट हाउस में बुलाया गया जहां नीतीश और आनंद ने लीक हुए पेपर का उपयोग करके तैयारी करने में उनकी मदद की। बाद में परीक्षार्थियों ने कबूल किया कि पांच मई को वास्तविक परीक्षा में भी वही प्रश्न आए थे।
यादव राजस्थान के कोटा में नीट-यूजी की तैयारी कर रहा था। यादव ने बयान में कहा, जब मैं कोटा में था तो मेरे चाचा ने मुझसे बात की और मुझे बताया कि उनके पास प्रश्न पत्र है। मैं पटना आया और मेरे चाचा ने मुझे दो लोगों अमित और नीतीश से मिलवाया जिन्होंने मुझे प्रश्नपत्र व उत्तर कुंजी प्रदान की। उन्होंने मुझे रातभर परीक्षा की तैयारी में मेरी मदद की। पांच मई के वास्तविक प्रश्नपत्र में भी वही प्रश्न थे।(भाषा) (File Photo)
Edited By : Chetan Gour 
ये भी पढ़ें
Live Update : कश्मीर में पीएम मोदी ने किया योग, दिया संदेश