Parliament Monsoon Session : चीन को PM मोदी का कड़ा संदेश, वीर सैनिकों के साथ खड़ा है पूरा देश

Last Updated: सोमवार, 14 सितम्बर 2020 (09:23 IST)
नई दिल्ली। कोरोनावायरस महामारी के बीच संसद का मॉनसून सत्र आज से शुरू हो रहा है। यह सत्र गुरुवार 1 अक्टूबर तक चलेगा कोविड-19 महामारी के समय में संसद का यह पहला सत्र है, इसलिए संसद सत्र के दौरान कोविड-19 के दिशा-निर्देशों के तहत सुरक्षा के सभी प्रबंध किए गए हैं। संसद संत्र से पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पत्रकारों से कहा कि एक विशिष्ट वातावरण में संसद का सत्र आज प्रारंभ हो रहा है। कोरोना भी है, कर्तव्य भी है और सभी सांसदों ने कर्तव्य का रास्ता चुना है।
प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं सभी सांसदों को अभिनंदन और धन्यवाद करता हूं। इस सत्र में कई महत्वपूर्ण निर्णय होंगे, अनेक विषयों पर चर्चा होगी। कोरोना से बनी जो परिस्थिति है उसमें जिन सतर्कताओं के विषय में सूचित किया गया है उन सतर्कताओं का पालन हम सबको करना ही करना है। और ये भी साफ है कि जब तक दवाई नहीं तब तक कोई ढिलाई नहीं।
में से सीमा विवाद पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हमारी सेना के वीर जवान हिम्मत के साथ, जज्बे के साथ, बुलंद हौसलों के साथ, दुर्गम पहाड़ियों में डटे हुए हैं। कुछ समय के बाद बर्फबारी भी शुरू होगी। ऐसे में पूरा सदन एक भाव से अपने वीर सैनिकों के साथ खड़ा है।
मोदी ने कहा कि कोरोना की स्थिति में जिन सतर्कताओं के बारे में सूचित किया गया है, उनका सबको पालन करना है। उन्होंने कहा आशा व्यक्त की कि जल्द से जल्द दुनिया के किसी भी कोने से टीका उपलब्ध हो और हमारे वैज्ञानिक जल्द से जल्द टीका बनाने में सफल हों।



और भी पढ़ें :