पीएम मोदी ने की वुहान से भारतीयों को निकालने वाली बचाव टीम की सराहना

पुनः संशोधित मंगलवार, 18 फ़रवरी 2020 (00:01 IST)
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने (Corona Virus) प्रभावित के से भारतीयों को निकालने के लिए एयर इंडिया के चालक दल के सदस्यों और चिकित्सा दल के प्रयासों की सराहना की है। उन्होंने कहा कि इस बचाव अभियान ने दुनियाभर में प्रवासी भारतीयों को आश्वस्त किया है कि पूरा देश संकट के समय उनके साथ खड़ा रहेगा।
प्रधानमंत्री द्वारा हस्ताक्षरित प्रशंसा पत्र सोमवार को इस अभियान में शामिल टीम को सौंपे गए। एयर इंडिया के चालक दल के कुल 68 सदस्य और दिल्ली के सफदरजंग और आरएमएल अस्पतालों से 6 चिकित्सक और 4 नर्सिंग अधिकारी उन 2 विशेष उड़ानों में शामिल थे, जिन्होंने वुहान से 647 भारतीयों और मालदीव के 7 नागरिकों को निकाला था।

टीम के जीवनरक्षक प्रयासों की सराहना करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, बचाव टीम द्वारा प्रदर्शित धैर्य, दृढ़ संकल्प और करुणा यह साबित करती है कि चरित्र की असल परीक्षा प्रतिकूल परिस्थिति में होती है। चीन में घातक कोरोना वायरस से 105 और लोगों की मौत होने से इससे मरने वालों की संख्या बढ़कर सोमवार को 1770 पहुंच गई।

चालक दल और चिकित्सा दल के सदस्यों को भेजे पत्र में प्रधानमंत्री ने कहा, ऐसे परिदृश्य में संकट में फंसे भारतीय नागरिकों को निकाले जाने से न केवल बचाए गए लोगों को राहत मिली है, बल्कि इसने दुनियाभर में बसे भारतीय प्रवासियों को भी आश्वस्त किया है कि संकट के समय में पूरा देश एकजुट होकर उनके साथ खड़ा है। आपके अथक प्रयास प्रत्येक नागरिक को समर्पण और प्रतिबद्धता के साथ राष्ट्र की सेवा करने के लिए प्रेरित करते हैं।

नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने यहां एक समारोह में चालक दल के प्रत्येक सदस्य को ये पत्र सौंपे जबकि केन्द्रीय मंत्री हषवर्धन ने राष्ट्रीय राजधानी में निर्माण भवन में चिकित्सकों की टीम और नर्सिंग अधिकारियों को ये पत्र दिए।

हर्षवर्धन ने सोमवार को यहां आईटीबीपी के एक केंद्र में उन भारतीयों से मुलाकात की जिन्हें चीन के कोरोना वायरस प्रभावित वुहान शहर से लाकर पृथक रखा गया है। इनमें से करीब 200 लोगों को छुट्टी मिल गई है। भारत में कोरोना वायरस के अब तक 3 मामलों की पुष्टि हुई है। हर्षवर्धन ने कहा कि इस वायरस से संक्रमित दो लोगों को अब छुट्टी दे दी गई है जबकि तीसरे व्यक्ति की हालत स्थिर है।



और भी पढ़ें :