मोदी सरकार के 100 दिन, धरती से चांद तक हर जगह छोड़ी छाप, 10 बड़े कामों से किया सबको हैरान

वेबदुनिया न्यूज डेस्क| Last Updated: शुक्रवार, 6 सितम्बर 2019 (07:34 IST)
2 ने पहले 100 दिनों में जिस तूफानी अंदाज में काम किया है, उससे भारत ही नहीं दुनियाभर के लोग हैरान हैं। मोदी
सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल की शुरुआत किसानों के हित में फैसले के साथ की और देखते ही देखते अनुच्छेद 370, 3 तलाक,
चंद्रमा पर चंद्रयान, आर्थिक मंदी से निपटने के उपाय, आधुनिक हथियारों की खरीदी, बैंकों के विलय समेत कई ऐसे फैसले कर डाले
जिसे लेना किसी भी सरकार के लिए आसान नहीं है। आइए नजर डालते हैं मोदी सरकार के इन 10 कामों पर...

अनुच्छेद 370 और 35ए समाप्त : मोदी सरकार ने अनुच्छेद 370 और 35 ए को समाप्त कर जम्मू कश्मीर का विशेष राज्य का दर्जा समाप्त कर दिया। सरकार के इस कदम से देश में हर्ष की लहर दौड़ गई तो चीन, अमेरिका, रूस समेत कई बड़े देशों ने इमरान के
गिड़गिड़ाने के बावजूद इसे भारत का आंतरिक मामला बताकर अपना पल्ला झाड़ लिया।
जम्मू-कश्मीर राज्य पुर्नगठन बिल : जम्मू-कश्मीर राज्य पुर्नगठन बिल के माध्यम से मोदी सरकार ने लद्दाख को जम्मू कश्मीर से अलग कर दिया। दोनों को ही केंद्र शा‍सित प्रदेश का दर्जा दिया गया। जम्मू-कश्मीर विधानसभा वाला केंद्र शासित प्रदेश होगा तो लद्दाख
बगैर विधानसभा वाला।

तीन तलाक कानून खत्म : ट्रिपल तलाक बिल को संसद के दोनों सदनों में पास कराकर मोदी सरकार ने एक बड़ी सफलता अर्जित की।
इस बिल के माध्यम से मोदी सरकार विपक्ष में भी सेंध लगाने में सफल रही। इस बिल को सामाजिक सुधार की दिशा में बड़ा कदम माना जा रहा है।
2 से चांद पर कदम : 22 जुलाई को भारत ने अपने दूसरे चंद्र अभियान चंद्रयान-2 का सफल प्रक्षेपण किया। 20 अगस्त को
इसके चंद्रमा की कक्षा में पहुंच गया और 7 सितंबर को यह चंद्रमा की सतह पर उतर जाएगा। इसी के साथ भारत चंद्रमा पर पहुंचने
वाला चौथा देश भी बन जाएगा। यह भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी का अब तक का सबसे जटिल मिशन है, जिस पर 1,000 करोड़ रुपए से
कम खर्च हुआ है।

पाकिस्तान को हर मोर्चे पर मात : मोदी सरकार ने अपनी मजबूत प्लानिंग के जरिए पाकिस्तान को हर मोर्चे पर मात दी। कश्मीर पर भारत को अमेरिका, रूस, ब्रिटेन समेत लगभग हर बड़े देश का साथ मिला। मोदी सरकार की घेराबंदी इतनी मजबूत थी कि चीन चाहकर
भी खुलकर पाकिस्तान की मदद नहीं कर सका।

अत्याधुनिक हथियारों की खरीदी : मोदी सरकार 2 ने अपने पहले 100 दिनों में अमेरिका, रूस, इसराइल समेत कई देशों से हथियार
समझौते किए। भारत ने हाल ही में अमेरिका से 8 अपाचे हेलीकॉप्टर भी हासिल किए इससे वायुसेना की मारक क्षमता में वृद्धि हुई।
आतंकवाद : आतंकवाद के खिलाफ कानून को और मजबूत को बनाने के लिए एनआईए को और मजबूत किया गया। इससे संस्था को
ज्यादा अधिकार मिलेंगे और आतंकवाद के खिलाफ कठोर कार्रवाई में आसानी होगी। इतना भारत ने इस कानून के तहत माफिया डॉन
दाऊद इब्राहिम, हाफिम मोहम्मद सईद, मसूद अजहर और जकी उर रहमान लखवी आतंकवादी भी घोषित कर दिया।

जल शक्ति का मंत्रालय : हर घर पानी पहुंचाने के लिए हमने जल शक्ति मंत्रालय का गठन किया है। इससे जिन घरों में पानी नहीं पहुंच रहा है, उनको फायदा होगा। इसके लिए 3.5 लाख करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।

बैंकों का विलय : मोदी सरकार ने 10 सरकारी बैंकों का विलय कर 4 बड़े बैंक बनाने का भी ऐलान कर दिया। इसके बाद देश में
सरकारी बैंकों की संख्या घटकर 12 रह जाएगी। इतना ही नहीं लोन को रेपो दर से जोड़कर लोगों को सस्ते कर्ज का रास्ता भी खोल
दिया गया।

पूरे किए वादे : सरकार ने किसानों, छोटे व्यापारियों और असंगठित मजदूरों के लिए पेंशन योजनाएं, सभी किसानों के लिए पीएम-किसान योजना का विस्तार और जल शक्ति मंत्रालय की स्थापना जैसे कई घोषणापत्र में किए कई वादे पूरे किए हैं।



और भी पढ़ें :