Maharashtra : Sachin Vaze केस में ATS को मिली बड़ी सफलता, दमन से जब्त की वॉल्वो कार; मिले कई अहम सबूत

Last Updated: मंगलवार, 23 मार्च 2021 (16:45 IST)
मुंबई। में मुंबई पुलिस अधिकारी सचिन वाजे (Sachin Vaze) की गिरफ्तारी के बाद में सियासी घमासान मचा हुआ है। इस बीच मामले की जांच कर रही महाराष्ट्र एटीएस को बड़ी सफलता मिली है।

महाराष्ट्र आतंकवाद रोधी दस्ता (ATS) ने हत्या मामले के सिलसिले में से एक महंगी कार जब्त की है। एक अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि महाराष्ट्र के रजिस्ट्रेशन नंबर वाली एक सोमवार को जब्त की गई, जिसके मालिक का अभी पता नहीं चला पाया है।
उन्होंने बताया कि जब्त की गई कार को ठाणे स्थित एटीएस कार्यालय में रखा गया है। अधिकारियों ने बताया कि मुंबई के फॉरेंसिक अधिकारी कार की जांच कर रहे हैं।
इससे पहले, इस हत्याकांड के संबंध में शनिवार रात दो व्यक्तियों को गिरफ्तार करने के बाद एटीएस ने गुजरात से एक और व्यक्ति को गिरफ्तार किया था। इस व्यक्ति ने कथित तौर पर आरोपियों को सिम कार्ड उपलब्ध कराए थे। अधिकारियों ने बताया था कि उन्होंने इस व्यक्ति के पास से कई सिम कार्ड बरामद किए हैं।
एटीएस ने मामले के संबंध में निलंबित पुलिसकर्मी विनायक शिंदे और क्रिकेट मैच के सटोरिए नरेश गौड़ को पिछले सप्ताह गिरफ्तार किया था।

गौरतलब है कि मुंबई में उद्योगपति मुकेश अंबानी के आवास के पास 25 फरवरी को एक संदिग्ध वाहन पाया गया था। इस वाहन से जिलेटिन की 20 छड़ें बरामद हुई थीं। यह वाहन ठाणे के कारोबारी मनसुख हिरन का था, जो कथित तौर पर चोरी हो गया था। इसके बाद 5 मार्च को मनसुख का शव मुंब्रा के पास मिला था।
राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) अंबानी के आवास के पास से वाहन बरामदगी के मामले की जांच कर रहा है और उसने मुंबई पुलिस के अधिकारी सचिन वाजे को गिरफ्तार किया था। एनआईए ने अपनी जांच के तहत अभी तक पांच महंगी कारें जब्त की हैं, जिनमें दो मर्सीडीज भी शामिल हैं। एटीएस ने कहा है कि वाजे मनसुख हिरन हत्या मामले में एक मुख्य आरोपी है।
एनआईए को संदेह है कि जब्त की गई 5 कारों में से तीन का इस्तेमाल वाजे ने किया होगा, जो अपराध खुफिया इकाई में सहायक पुलिस निरीक्षक के तौर पर नियुक्त थे। उन्होंने 13 मार्च को गिरफ्तार किया गया था। उन्हें निलंबित कर दिया गया है। (इनपुट भाषा)



और भी पढ़ें :