कांग्रेस आलाकमान कराएगा कमलनाथ-सिंधिया के बीच सुलह, वादों को लेकर छिड़ा है शब्द युद्ध

पुनः संशोधित सोमवार, 17 फ़रवरी 2020 (15:45 IST)
नई दिल्ली। ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा वचन-पत्र में दिए गए वादों को लेकर सड़क पर उतरने की चेतावनी के बाद प्रदेश में घमासान मचा हुआ है। कांग्रेस 2 खेमों में बंट गई है। इसे लेकर कांग्रेस चिंतित है।
ALSO READ:
कांग्रेस की एकता तार-तार ! आमने -सामने सिंधिया - समर्थक मंत्री
आलाकमान ने दोनों कांग्रेस के 2 बड़े नेताओं के बीच सुलह की तैयारी कर ली है। दोनों के बीच जारी शब्द युद्ध के बीच मतभेदों को सुलझाने के लिए दोनों नेताओं के इस हफ्ते मुलाकात करने की संभावना है।
कांग्रेस महासचिव तथा पार्टी की मध्यप्रदेश इकाई के प्रभारी दीपक बावरिया ने कहा कि दोनों नेता सत्ता में आने से पहले मध्यप्रदेश की जनता से पार्टी द्वारा किए गए वादों को पूरा करने के तौर-तरीकों पर काम करने के लिए मुलाकात करेंगे।
बावरिया ने कहा कि कमलनाथ एवं ज्योतिरादित्य सिंधिया इस हफ्ते मुलाकात करेंगे और लंबित मुद्दों पर काम करेंगे तथा मध्यप्रदेश के विभिन्न वर्गों के लोगों की चिंताओं और मांगों का समाधान खोजेंगे।

दोनों नेताओं के बीच किसी प्रकार के मतभेद की खबरों को दरकिनार करते हुए उन्होंने कहा कि पार्टी के सभी नेता जनकल्याण के लिए काम कर रहे हैं और मध्यप्रदेश में सुशासन उपलब्ध करा रहे हैं।


और भी पढ़ें :