ISRO के टॉप वैज्ञानिक तपन मिश्रा का सनसनीखेज दावा- डोसे की चटनी में जहर देकर, घर में सांप भेजकर हुई मारने की हुई कोशिश

Last Updated: बुधवार, 6 जनवरी 2021 (09:32 IST)
बेंगलुरु। इसरो के टॉप के सनसनीखेज दावे से हड़कंप मच गया है। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) के एक शीर्ष वैज्ञानिक ने मंगलवार को दावा किया कि उन्हें 3 साल से अधिक समय पहले दिया गया था। तपन मिश्रा ने दावा किया कि डोसे की चटनी में जहर दिया दिया गया।
ALSO READ:
पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की किताब प्रकाशित, PM मोदी के बारे में लिखी चौंकाने वाली बात
घर में भेजकर मारने की भी कोशिश हुई थी। तपन मिश्रा ने आरोप लगाया कि उन्हें 23 मई 2017 को यहां इसरो मुख्यालय में पदोन्नति साक्षात्कार के दौरान घातक आर्सेनिक ट्राइऑक्साइड जहर दिया गया था।

उन्होंने कहा कि दोपहर के भोजन के बाद ‘स्नैक्स’ में संभवत: डोसे की चटनी के साथ मिलाकर जहर दिया गया था। मिश्रा फिलहाल इसरो में वरिष्ठ सलाहकार के तौर पर काम कर रहे हैं और इस महीने के अंत में सेवानिवृत होने वाले हैं।

उन्होंने फेसबुक पर 'लॉंग केप्ट सीक्रेट' नामक से एक पोस्ट में यह दावा किया कि जुलाई, 2017 में गृह मामलों के सुरक्षाकर्मियों ने उनसे मुलाकात कर आर्सेनिक जहर दिए जाने के प्रति उन्हें सावधान किया था।
फेसबुक पोस्ट में उन्होंने लिखा है कि जुलाई 2017 में गृह विभाग के सुरक्षा अधिकारियों उन्हें आर्सेनिक से खतरे के बारे में सावधान किया था।
उनके द्वारा डॉक्टरों को दी गई जानकारी के चलते ही उनका सटीक इलाज हुआ और वे बच सके।

हालांकि जहर के कारण उन्हें लंबे वक्त तक इलाज करवाना पड़ा। उन्हें सांस लेने में दिक्कत, फंगल संक्रमण और त्वचा से जुड़ी कई समस्याएं हुईं। उन्होंने फेसबुक पर अपनी जांच रिपोर्ट, इलाज के पर्चा और त्वचा संबंधी दिक्कतों की फोटो भी पोस्ट की है।



और भी पढ़ें :