भारतीय पेशेवरों को अगले 6 माह में आय, बचत, खर्च बढ़ने की उम्मीद

पुनः संशोधित मंगलवार, 30 जून 2020 (18:01 IST)
नई दिल्ली। महामारी संकट और उसके बाद लॉकडाउन से जहां एक तरफ अर्थव्यवस्था में नरमी के हालात हैं। वहीं के एक के मुताबिक हर 4 में 1 को उम्मीद है कि अगले 6 महीने में उनकी और में बढ़त होगी। साथ ही उनका निजी भी बढ़ेगा।
लिंक्डइन के इस सर्वेक्षण में देश के 1,351 पेशेवर शामिल हुए। यह सर्वेक्षण 1 जून से 14 जून के बीच किया गया जो दिखाता है, पेशेवर अपनी निजी वित्तीय हालत को लेकर अधिक विश्वस्त हैं।

ठीक ऐसा ही एक सर्वेक्षण 4 मई से 17 मई के बीच किया गया था। इससे तुलना करने पर देखें तो नवीनतम सर्वेक्षण में भारतीय पेशेवरों का विश्वास मजबूत हुआ है। मई में लिंक्डइन के इस सर्वेक्षण में 1,464 पेशेवर शामिल हुए थे।
मई के सर्वेक्षण में 20 प्रतिशत पेशेवरों को अपनी आय बढ़ने, 27 प्रतिशत को बचत बढ़ने और 23 प्रतिशत को निजी खर्च बढ़ने की उम्मीद थी।

नवीनतम सर्वेक्षण में हर चार में से एक पेशेवर को अगले छह महीनों में आय और निजी खर्च बढने की उम्मीद है। वहीं हर 3 में से एक को लगता है कि उनकी निजी बचत में बढ़ोत्तरी होगी।

निकट अवधि में नियोक्ता की हालत पर विश्वास को लेकर सर्वेक्षण बताता है कि सेवा क्षेत्र के कॉरपोरेट पेशेवरों में 50 प्रतिशत, विनिर्माण क्षेत्र के 46 प्रतिशत और शिक्षा से जुड़़े 41 प्रतिशत पेशेवरों का मानना है कि अगले 6 महीनों में उनकी कंपनी का प्रदर्शन अच्छा रहेगा।
दीर्घावधि के लिए विनिर्माण क्षेत्र के 64 प्रतिशत, सेवा क्षेत्र के कॉरपोरेट में 60 प्रतिशत और सॉफ्टवेयर एवं सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र के 59 प्रतिशत पेशेवरों को लगता है कि उनकी कंपनियां अगले 1 साल में बेहतर प्रदर्शन करेंगी।




और भी पढ़ें :