मंगलवार, 16 जुलाई 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. राष्ट्रीय
  4. Independence Day 2022 : PM Narendra Modis speech live update
Written By
Last Updated : सोमवार, 15 अगस्त 2022 (08:49 IST)

PM मोदी ने 9वीं बार लालकिले पर फहराया तिरंगा, कहा- ये गांधी, बोस, आंबेडकर को याद करने का वक्त ( Live Update)

PM मोदी ने 9वीं बार लालकिले पर फहराया तिरंगा, कहा- ये गांधी, बोस, आंबेडकर को याद करने का वक्त ( Live Update) - Independence Day 2022 : PM Narendra Modis speech live update
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) पर लगातार 9वीं बार लालकिले (Red Fort) की प्राचीर पर राष्ट्रीय ध्वज (Indianflag) फहराया। 15 अगस्त को होने वाला समारोह खास है क्योंकि यह भारत की आजादी की 75वीं वर्षगांठ मना रहा है। स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम का पल-पल का अपडेट-

पीएम मोदी ने कहा- अक्षय ऊर्जा से लेकर चिकित्सा शिक्षा के लिए बेहतर बुनियादी ढांचे तक, भारत ने हर मोर्चे पर सुधार किया है। मैं युवाओं से देश के विकास के लिए अपने जीवन के अगले 25 वर्ष समर्पित करने का आग्रह करता हूं, हम मानवता के पूर्ण विकास के लिए काम करेंगे। जब सपने बड़े हों तो कड़ी मेहनत जरूरी है, स्वतंत्र भारत का सपना देखने वाले स्वतंत्रता सेनानियों की प्रतिबद्धताओं, उनके संकल्प से प्रेरणा लेने की आवश्यकता है। बिरसा मुंडा, तिरोत सिंह जैसे आदिवासी स्वतंत्रता सेनानियों ने भारत के हरेक कोने में स्वतंत्रता संग्राम को जीवित रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

पीएम मोदी के पांच संकल्प- 2047 के लिए पांच प्रण- विकसित भारत बनाना, दासता के किसी भी रूप को दूर करना, विरासत पर गर्व करना, एकता बनाए रखना और अपने कर्तव्यों को पूर्ण करना है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2047 तक स्वतंत्रता सेनानियों के सपनों को पूरा करने के लिए पांच प्रण के साथ आगे बढ़ने का आह्वान किया। जब स्थिर शासन होता है तो फैसले तेजी से किए जाते हैं, राष्ट्र के विकास के लिए ‘जनभागीदारी’ की भावना प्रबल होती है। जब सपने बड़े हों तो कड़ी मेहनत जरूरी है, स्वतंत्र भारत का सपना देखने वाले स्वतंत्रता सेनानियों की प्रतिबद्धताओं, उनके संकल्प से प्रेरणा लेने की आवश्यकता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2047 तक स्वतंत्रता सेनानियों के सपनों को पूरा करने के लिए पांच प्रण के साथ आगे बढ़ने का आह्वान किया। भारत के लोग सकारात्मक बदलाव चाहते हैं और वे तीव्र गति से ऐसा होते देखना चाहते हैं। कोविड-19 से निपटने के लिए सभी नागरिक एक साथ आए, चिकित्सकों के सहयोग से टीके दूरदराज के क्षेत्रों के लोगों को लगाए गए और इस दौरान हम एक साथ खड़े रहे।

'हर घर तिरंगा’ हमारे गौरवशाली देश की भावना का जश्न मनाने के लिए पूरे देश के एक साथ आने का उदाहरण है।

पीएम मोदी ने कहा- 'अमृत काल’ इस आकांक्षी समाज के सपनों और लक्ष्यों को पूरा करने का स्वर्णिम अवसर उपलब्ध करा रहा है। भारत को देखने का दुनिया का नजरिया बदल रहा है। पिछले तीन दिनों में ‘तिरंगे’ के लिए देश में जो उत्साह देखा गया है, कई विशेषज्ञों ने उसकी कल्पना तक नहीं की थी, यह देश के पुनर्जागरण का प्रतीक है। हमें गर्व है कि भारत में हर घर में आकांक्षाएं पल रही है, प्रत्येक भारतीय नए भारत की तरक्की के लिए उत्साहित है।

पीएम मोदी ने कहा- मैंने कतार में खड़े अंतिम व्यक्ति को सशक्त बनाने के महात्मा गांधी के सपने को साकार करने के लिए अपने आप को समर्पित कर दिया है। मैंने कतार में खड़े अंतिम व्यक्ति को सशक्त बनाने के महात्मा गांधी के सपने को साकार करने के लिए अपने आप को समर्पित कर दिया है। भारत की भावना की मेरी समझ ने मुझे यह अहसास कराया कि नए भारत की तरक्की के लिए हमें समावेशी विकास सुनिश्चित करने की आवश्यकता है।

पीएम मोदी ने कहा- भारत लोकतंत्र की जननी है और विविधता इसकी ताकत है। आजादी के बाद चुनौतियों का सामना करने के बावजूद कोई भी चीज भारतीय नागरिकों का उत्साह कम नहीं कर सकी। इस मिट्टी में ताकत है, कई चुनौतियों के बावजूद भारत रुका नहीं, झुका नहीं और आगे बढ़ता रहा। मैंने अपना पूरा कार्यकाल समाज के वंचित वर्गों के उत्थान के लिए समर्पित कर दिया है। हमारे देश ने यह साबित किया है कि हमने अपनी विविधता से मिल रही ताकत को अंतर्निहित किया है, देशभक्ति का साझा सूत्र भारत को अडिग बनाता है 

पीएम मोदी ने कहा- इस 75 साल की यात्रा में, आशाओं, आकांक्षाओं, उतार-चढ़ावों के बीच हम सभी के प्रयास से उस मुकाम तक पहुंचे, जहां हम पहुंच सकते थे. 2014 में, नागरिकों ने मुझे जिम्मेदारी दी- आजादी के बाद पैदा हुआ पहला व्यक्ति जिसे लाल किले से इस देश के नागरिकों की प्रशंसा गाने का अवसर मिला

पीएम ने कहा- हम अपने सैनिकों, पुलिस बलों और सबसे अधिक हरेक नागरिक को सलाम करते हैं, जिन्होंने कई चुनौतियों का सामना किया और नए भारत के दृष्टिकोण के लिए काम किया। 
 
पीएम मोदी ने कहा- राष्ट्र आज उन लोगों को भी याद कर रहा है जिन्होंने देश के लिए बलिदान दिया, लेकिन उन्हें भुला दिया गया और उनका हक अदा नहीं दिया गया।
 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र की चेतना जगाने वाले नारायण गुरु, स्वामी विवेकानंद और रवींद्रनाथ टैगोर सहित अन्य को भी श्रद्धांजलि दी। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि जब हम स्वतंत्रता संग्राम की बात करते हैं तो हम आदिवासी समुदाय को नहीं भुलाया जा सकता है। भगवान बिरसा मुंडा, सिद्धू-कान्हू, अल्लूरी सीताराम राजू, गोविंद गुरु- ऐसे असंख्य नाम हैं जो स्वतंत्रता संग्राम की आवाज बने और आदिवासी समुदाय को मातृभूमि के लिए जीने और मरने के लिए प्रेरित किया।

पीएम मोदी ने कहा- हमने बहुत कुछ झेला है। कभी आंतकवाद, कभी युद्ध, कभी अन्न का संकट हमने झेला है। आजादी का पूरा कालखंड संघर्ष में बीता है। आज हर एक बलिदानी और त्यागी को नमन करने का अवसर है। वीर सावरकर, नेताजी सुभाषचन्द्र बोस और आंबेडकर को याद करने का समय है।

प्रधानमंत्री मोदी ने रानी लक्ष्मीबाई और बेगम हजरत महल सहित भारत की महिला सेनानियों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि राष्ट्र उनका आभारी है। प्रधानमंत्री ने ब्रिटिश शासन के खिलाफ लड़ने वाले तात्या टोपे, राम प्रसाद बिस्मिल, अशफाक उल्लाह खान जैसे स्वतंत्रता सेनानियों को श्रद्धांजलि दी।

पीएम मोदी ने कहा- आजादी के जंग में गुलामी का पूरा काल खंड संघर्ष में बीता है। हिन्दुस्तान का कोई कोना ऐसा नहीं था जहां के लोगों ने सैकड़ों सालों तक गुलामी के खिलाफ जंग न की हो। अपनी जिंदगी न खपाई हो। आहूति न दी हो। आज हम सब देशवासियों के लिए हर महापुरुष को, त्यागी को बलिदानी को नमन करने का अवसर है। उनके सपनों को पूरा करने का संकल्प लेने का अवसर है।

पीएम ने कहा- मैं इस स्वतंत्रता दिवस पर सभी भारतीयों और भारत से प्यार करने वालों को बधाई देता हूं। नए संकल्प के साथ नई दिशा की ओर कदम बढ़ाने का दिन है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को संबोधित करते हुए देशवासियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि आज विश्व के कोने-कोने में भारत का तिरंगा आन, बान, शान से लहरा रहा है।

- प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने तिरंगा लालकिले पर तिरंगा फहराया।
- पीएम मोदी लाल किले पर पहुंच गए हैं। उन्होंने गार्ड ऑफ ऑनर का निरीक्षण किया।
- प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राजघाट पहुंचकर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि दी।
- जैसे ही राष्‍ट्रीय ध्‍वज फहराया जाएगा, वैसे ही दो एम आई 17 वन वी हेलीकॉप्‍टर पुष्‍प वर्षा करेंगे और उसके बाद प्रधानमंत्री का संबोधन होगा।
- प्रधानमंत्री आज लाल किले की प्राचीर पर राष्‍ट्रीय ध्‍वज फहराएंगे। ध्‍वजारोहण के बाद तिरंगे को सलामी दी जाएगी।
प्रधानमंत्री ने देशवासियों को कहा जयहिन्द : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सभी देशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं दीं।
ये भी पढ़ें
आजादी के 75वें जश्न में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पहना तिरंगा साफा