गुरुवार, 29 फ़रवरी 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. राष्ट्रीय
  4. High alert in Kashmir, G-20 meeting on target of terrorists
Last Modified: सोमवार, 8 मई 2023 (09:22 IST)

कश्‍मीर में हाईअलर्ट, आतंकियों के निशाने पर है G-20 की बैठक

कश्‍मीर में हाईअलर्ट, आतंकियों के निशाने पर है G-20 की बैठक - High alert in Kashmir, G-20 meeting on target of terrorists
जम्‍मू। शक्तिशाली आईईडी की बरामदगी, घुसपैठ के प्रसाय और 3 मुठभेड़ों में 7 आतंकियों की मौत के बाद पूरे जम्‍मू-कश्‍मीर को हाईअलर्ट मोड पर रखा गया है, क्‍योंकि आतंकी जी-20 की होने वाली बैठक में खलल डालने की योजनाएं लिए हुए हैं। इसकी पुष्टि सुरक्षाधिकारी भी कर रहे हैं। इन अधिकारियों के बकौल सुरक्षाबलों ने बड़ी आतंकी साजिश को नाकाम किया है।

पुलिस ने यहां एक आतंकी मददगार को गिरफ्तार किया है। इसके साथ ही करीब छह किलो आईईडी को बरामद किया है। इस मामले में पुलिस और सुरक्षाबलों की जांच जारी है। जानकारी के अनुसार, पुलवामा पुलिस ने आतंकी मददगार इश्फाक अहमद वानी को गिरफ्तार किया है। वह पुलवामा के अरिगाम इलाके का रहने वाला है। पुलिस ने उसके खुलासे पर करीब पांच से छह किलो वजनी आईईडी को जब्त किया है। इससे पुलिस ने एक बड़ी आतंकी साजिश को विफल कर दिया है।

आईईडी की इस बड़ी खेप की बरामदगी राजौरी के कंडी वन इलाके में एक आतंकी हमले के कुछ दिनों बाद की गई। शुक्रवार को ही आतंकियों ने कंडी इलाके में आईईडी ब्लास्ट किया था, इस हमले में पांच जवान बलिदान हो गए थे। आज रविवार को जम्मू-कश्मीर पुलिस ने बड़ी मात्रा में आईईडी बरामद की है। कश्मीर जोन पुलिस ने ट्वीट करके इस आईईडी की बरामदगी की सूचना दी है।

कश्मीर जोन पुलिस ने एक ट्वीट में बताया कि पकड़े गए आतंकवादी सहयोगी के खुलासे के आधार पर 5-6 किलोग्राम आईईडी बरामद किया गया, जिससे एक बड़ा हादसा टल गया। याद रहे कश्मीर में लगातार तीन मुठभेड़ों के बाद सुरक्षा बढ़ा दी गई है। इन मुठभेड़ों में संयुक्त सुरक्षाबलों द्वारा 7 आतंकवादियों को मार गिराया गया है।

अधिकारियों ने कहा कि अतिरिक्त सुरक्षाकर्मियों को जमीनी स्तर पर तैनात किया गया है, हवाई निगरानी के लिए ड्रोन का उपयोग किया जा रहा है। आतंकवादियों या विस्फोटकों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाने से रोकने के लिए स्थापित विभिन्न जांच बिंदुओं पर वाहनों की जांच के लिए खोजी कुत्ते सुरक्षाकर्मियों की सहायता कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि सुरक्षा तंत्र को हाईअलर्ट पर रखा गया है क्योंकि कश्मीर इस महीने के अंत में पर्यटन पर जी-20 कार्य समूह की बैठक की मेजबानी करेगा। पिछले पांच दिनों के दौरान मुठभेड़ों में मारे गए 7 आतंकवादियों में से तीन दक्षिण कश्मीर से थे।

जानकारी के लिए इस समय जम्मू-कश्मीर में हाईअलर्ट है। खास करके राजौरी के जंगलों में और इस पूरे क्षेत्र में सेना सर्च ऑपरेशन चला रही है। राजौरी जिले के कोटरंका के केसरी हिल इलाके में आतंकी हमले के बाद राजौरी में हाईअलर्ट जारी कर दिया गया है। सेना, पुलिस और सुरक्षा एजेंसियां सतर्क हो गई हैं। चप्पे-चप्पे पर नाके लगाकर जांच की जा रही है।
ये भी पढ़ें
डिलिवरी पार्टनर्स के साथ राहुल गांधी ने खाया डोसा, कॉफी पी, फिर निकले स्कूटर की सवारी पर