नीरव मोदी का करीबी सहयोगी गिरफ्तार

पुनः संशोधित बुधवार, 28 मार्च 2018 (15:45 IST)
मुंबई/नई दिल्ली। (ईडी) ने 12 हजार करोड़ रुपए से अधिक के पीएनबी बैंक घोटाले की धनशोधन जांच के संबंध में हीरा व्यापारी नीरव मोदी की एक फर्म के उपाध्यक्ष और उसके करीबी सहयोगी को गिरफ्तार किया है।

अधिकारियों ने बुधवार को कहा कि फायरस्टार ग्रुप के उपाध्यक्ष श्याम सुंदर वाधवा को गत रात धनशोधन रोकथाम कानून के तहत गिरफ्तार किया गया। वाधवा को नीरव का
करीबी भरोसेमंद बताया जा रहा है। एक अधिकारी ने कहा कि वह नीरव के करीबी संपर्क में है और वह नीरव मोदी के इशारे पर उसकी मदद के लिए धनशोधन में भी शामिल है। इस मामले में यह ईडी की पहली गिरफ्तारी है।
वाधवा को बुधवार को मुंबई की एक स्थानीय अदालत में पेश किए जाने की संभावना है। केंद्रीय जांच एजेंसी ने कहा कि वाधवा घोटाले की सच्चाई उजागर करने में उसकी मदद करेगा। आरोप है कि वह पूछताछ के दौरान एजेंसी को गुमराह करने का प्रयास कर रहा था लेकिन उसने 2 फर्में गठित करने के लिए कागजी कामकाज करने तथा इनके लिए छद्म निदेशक नियुक्त करने की बात कबूल की है।
एजेंसी ने पंजाब नेशनल बैंक में कथित धोखाधड़ी की जांच के सिलसिले में नीरव मोदी तथा उसके मामा एवं गीतांजलि जेम्स के प्रमोटर मेहुल चोकसी के खिलाफ धनशोधन संबंधी 2 प्राथमिकी दर्ज की हैं। ईडी ने इस मामले में देशभर में कुल 251 जगह छापेमारी की थी। इस मामले में अब तक जब्त और कुर्क चल-अचल संपत्ति की आंकी गई कुल कीमत 7,664 करोड़ रुपए है। (भाषा)



और भी पढ़ें :