DRDO का अनमैन्ड एरियल व्हीकल कर्नाटक में क्रैश, ट्रायल के दौरान हुआ हादसा

Last Updated: मंगलवार, 17 सितम्बर 2019 (10:58 IST)
रक्षा अनुसंधान व विकास संगठन (DRDO) का एक (UAV) में हो गया। खबरों के अनुसार
ये हेवी ड्यूटी ड्रोन कर्नाटक के चित्रदुर्ग जिले के जोडी चिकेनहल्ली में क्रैश हुआ है। चैलकरे एयरोनॉटिकल टेस्ट रेंज में सुबह 6 बजे क्रैश हुए इस हेवी ड्रोन का नाम रुस्तम-2 (Rustom-2) बताया गया है।

ने रुस्तम-2 का पिछले साल कर्नाटक के चैलकरे एयरोनॉटिकल टेस्ट रेंज से कामयाब परीक्षण किया था। इसका आज ट्रायल किया जा रहा था, जिसमें यह क्रैश हो गया। रुस्तम-2 का टेस्ट ट्रायल किया जा रहा था।
इसी दौरान ये क्रैश होकर खेत में गिर गया। लोगों की भीड़ को देखते हुए पुलिस भी पहुंच गई। DRDO के अधिकारी भी मौके पर पहुंचकर क्रैश होने के कारणों की जांच कर रहे हैं।

DRDO ने इस तरह का ड्रोन सेना की सहायता के लिए बनाया था। ड्रोन का प्रयोग दुश्मन की तलाश करने, निगरानी रखने, टारगेट पर सटीक निशाना लगाने और सिग्नल इंटेलिजेंस में होता है। अमेरिका आतंकियों पर हमला करने के लिए ऐसे ड्रोन के प्रयोग करता रहता है।



और भी पढ़ें :