सोमवार, 22 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. राष्ट्रीय
  4. Cyclonic storm will arise in Arabian Sea
Written By
Last Updated :नई दिल्ली , शुक्रवार, 20 अक्टूबर 2023 (16:31 IST)

आईएमडी ने जताई आशंका, अरब सागर में उठेगा चक्रवाती तूफान

आईएमडी ने जताई आशंका, अरब सागर में उठेगा चक्रवाती तूफान - Cyclonic storm will arise in Arabian Sea
Cyclonic Storm: भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने शुक्रवार को कहा कि दक्षिण-पूर्व और दक्षिण-पश्चिम अरब सागर (Arabian Sea) के ऊपर दबाव का एक क्षेत्र में विकसित हो गया है जिसके 21 अक्टूबर की सुबह तक चक्रवाती तूफान में बदलने की आशंका है।
 
इस साल अरब सागर में यह दूसरा चक्रवाती तूफान होगा। हिन्द महासागर क्षेत्र में चक्रवातों के नामकरण के लिए अपनाए गए फॉर्मूले के अनुसार इसे 'तेज' कहा जाएगा। आईएमडी के अनुसार चक्रवाती तूफान के रविवार को गंभीर चक्रवाती तूफान में बदलने तथा ओमान के दक्षिणी तटों एवं पास के यमन की ओर बढ़ने का पूर्वानुमान है।
 
हालाकि मौसम विज्ञानियों ने चेताया है कि कभी-कभी तूफान पूर्वानुमानित पथ से भटक सकते हैं, जैसा कि चक्रवात 'बिपरजॉय' के मामले में देखा गया था। 'बिपरजॉय' जून में अरब सागर में बना था और शुरू में उत्तर-पश्चिम दिशा में बढ़ने के बाद गुजरात में मांडवी और पाकिस्तान में कराची की तरफ गुजरा था।
 
मौसम का पूर्वानुमान जताने वाली निजी एजेंसी 'स्काईमेट वेदर' ने कहा कि अधिकांश मॉडल संकेत देते हैं कि तूफान यमन-ओमान तट की ओर बढ़ रहा है। हालाकि वैश्विक पूर्वानुमान तंत्र मॉडल इसके अरब सागर के गहरे मध्य भागों में स्थित होने पर पुनरावृत्ति का सुझाव देते हैं जिससे यह प्रणाली पाकिस्तान और गुजरात तट की ओर जा सकती है। चक्रवाती तूफान के दौरान हवा की रफ्तार 62-88 किमी प्रति घंटे की होती है जबकि हवा की गति 89-117 किमी प्रति घंटे तक पहुंचने पर इसे गंभीर चक्रवाती तूफान कहा जाता है।(भाषा)
 
Edited by: Ravindra Gupta
ये भी पढ़ें
आखिर मुस्‍लिमों को शरण क्‍यों नहीं देते अरब देश?