भोपाल में गणपति विसर्जन के समय बड़ा हादसा, 11 लोगों की डूबने से मौत

विकास सिंह| Last Updated: शुक्रवार, 13 सितम्बर 2019 (16:08 IST)
भोपाल में गणपति विसर्जन के दौरान बड़ा हादसा हुआ है। राजधानी के खटलापुरा घाट पर गणपति विसर्जन के दौरान तेज बहाव में श्रद्धालुओं से भरी नाव पलटने से 11 लोगों की मौत हो गई, वहीं नाव में सवार कई लोग अब भी लापता बताए जा रहे हैं। इस दर्दनाक हादसे की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दे दिए गए हैं। हादसे की हर जानकारी : 

बताया जा रहा है कि नाव में करीब 19 लोग सवार थे जो राजधानी के पिपलानी इलाके के रहने वाले थे। यह सभी लोग 2 नाव में सवार होकर सुबह 4.30 बजे गणपति विसर्जन के लिए पहुंचे थे।

लगातार बारिश के बीच जब यह सभी लोग तेज बहाव में तालाब के बीच में पहुंचे तभी नाव असंतुलित होकर पलट गई। जिससे नाव में सवार लोग डूब गए। अब तक 11 लोगों के शवों को रेस्क्यू कर निकाल लिया गया है।

भोपाल डीआईजी इरशाद वली ने नाव पलटने से डूबने से 11 लोगों की मौत की पुष्टि कर दी है। उनके अनुसार अभी भी रेस्‍क्‍यू ऑपरेशन जारी है और अभी भी कुछ और लोगों के पानी में फंसे होने की संभावना है। लगातार पानी बरसने से कारण रेस्क्‍यू ऑपरेशन में काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भोपाल के खटलापुरा घाट पर गणेश विसर्जन के दौरान हुए नाव हादसे को बेहद दुखद बताते हुए इस घटना की मजिस्ट्रियल जांच के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि दुख की इस घड़ी में सरकार हर पीड़ित परिवार के साथ खड़ी है। उनकी हरसंभव मदद की जाएगी। उन्होंने कहा कि इस घटना की जांच में जिसकी भी लापरवाही सामने आएगी, उसे बख़्शा नहीं जाएगा।

राहत बचाव में जुटे एसडीआरएफ (SDRF) के अफसरों के मुताबिक, सुबह करीब 4.30 बजे ये लोग गणपति विसर्जन के लिए नाव पर सवार होकर निकले थे। इसी दौरान जब नाव पानी के बीच में पहुंची तभी वह पलट गई जिससे सभी लोग पानी में डूब गए। अब तक रेस्क्‍यू ऑपरेशन के दौरान 11 लोगों के शव निकाले जा चुके हैं।

घटना की जांच के आदेश : हादसे की सूचना मिलते ही जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा और पुलिस और प्रशासन के आला अफसर मौके पर पहुंच गए। प्रशासन की तरफ से भोपाल कलेक्टर ने मृतक के परिजनों को 4-4 लाख रुपए की आर्थिक सहायता का ऐलान किया है।

वहीं मरने वालों में कुछ बच्चों के शामिल होने की भी संभावना है। मौके पर पहुंचे जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने पूरे मामले की जांच के आदेश देते हुए कहा कि लापरवाह लोगों को बख्शा नहीं जाएगा। इस दर्दनाक हादसे की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दे दिए गए हैं। 

2 के खिलाफ प्रकरण : नाव हादसे में फरियादी निर्मल कुमार दास की रिपोर्ट पर नाविक आकाश बाथम एवं चंगु बाथम के विरुद्ध थाना जहांगीराबाद में अपराध क्रमांक 1033/19 धारा 304(A) भादंवि के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है।

मृतकों के नाम : परवेज़ पिता सईद (15), रोहित मौर्य पिता नंदू (30), करण (16), हर्ष (20), सन्नी पिता नारायण ठाकरे (22), राहुल पिता मुन्ना वर्मा (30), विक्की पिता रामनाथ (28), विशाल पिता राजू (22), अर्जुन शर्मा (18), राहुल मिश्रा (20), करण पिता पन्नालाल (26)।

नगरीय विकास एवं आवास मंत्री जयवर्धन सिंह ने खटलापुरा में हुई नाव दुर्घटना पर गहरा दुख व्यक्त किया है। उन्होंने ईश्वर से प्रार्थना की कि वह मृतकों के परिजनों को यह दुख सहन करने की शक्ति प्रदान करे। मंत्री सिंह ने मृतकों के परिजनों को हरसंभव सहायता उपलब्ध कराने के निर्देश नगर निगम को दिए हैं।

नगर निगम भोपाल द्वारा मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपए सहायता देने का निर्णय लिया है। राज्य शासन द्वारा 4-4 लाख रुपए और रेडक्रॉस द्वारा 50- 50 हजार रुपए की सहायता दी जा रही है।




और भी पढ़ें :