2020 में भारत में औसत वेतन वृद्धि 9.2% रहने की उम्मीद, महंगाई 5% बढ़ने का अनुमान

पुनः संशोधित सोमवार, 2 दिसंबर 2019 (22:18 IST)
नई दिल्ली। देश में वेतनभोगियों की में सालाना औसत वेतन वृद्धि 9.2 प्रतिशत होने की उम्मीद है। यह एशिया में सबसे अधिक होगी। लेकिन की वजह से वास्तविक वेतन वृद्धि मात्र 5 प्रतिशत ही रहने का अनुमान है।
'कॉर्न फेरी ग्लोबल सैलरी फोरकास्ट' की सोमवार को जारी रिपोर्ट में यह बात सामने आई है। रिपोर्ट में कहा गया है कि 2020 में में औसतन वेतन वृद्धि 9.2 प्रतिशत रहने की उम्मीद है, जो पिछले साल की 10 प्रतिशत से कम है, वहीं मुद्रास्फीति का संयोजन करने के बाद 2020 में वास्तविक वेतन वृद्धि मात्र 5 प्रतिशत होने का अनुमान है। रिपोर्ट में कहा गया है कि देश का वेतन वृद्धि अनुमान एशिया में सबसे अधिक है।
कॉर्न फैरी इंडिया के चेयरमैन एवं क्षेत्रीय प्रबंध निदेशक नवनीत सिंह ने कहा कि दुनियाभर में लोगों की वेतन वृद्धि प्रभावित हो रही है, इसके बावजूद भारत में इसकी वृद्धि दर काफी मजबूत है। मौजूदा आर्थिक हालात और सरकार के प्रगतिशील सुधारों के साथ देशभर में सभी क्षेत्रों में सावधान लेकिन आशा की भावना है और इस वजह से वेतन में ऊंची वृद्धि जारी रहने की उम्मीद है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि 2020 में वैश्विक औसत वेतन वृद्धि 4.9 प्रतिशत रहने की उम्मीद है। वैश्विक मुद्रास्फीति दर 2.8 प्रतिशत रहने का अनुमान है जिसके चलते वास्तविक वैश्विक औसत वेतन वृद्धि 2.1 प्रतिशत रह सकती है। एशिया में औसत वेतन वृद्धि 5.3 प्रतिशत, मुद्रास्फीति 2.2 प्रतिशत और वास्तविक औसत वेतन वृद्धि 3.1 प्रतिशत रहने का अनुमान है।


और भी पढ़ें :