0

राष्‍ट्रपति जो बि‍डेन की प्रशासनिक टीम में ‘भारतवंशियों’ का बोलबाला

मंगलवार,जनवरी 19, 2021
indian women in america
0
1
भारत की सुरक्षा से जुड़े कई कामयाब ऑपरेशन के पीछे डोवाल का दिमाग माना जाता है। उनका जीवन किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं रहा है, अगर यूं कहे कि अजीत डोवाल इस सरकार के या मोदी के ‘जेम्स बॉन्ड’ हैं तो शायद गलत नहीं होगा। देश के इस जेम्स बॉन्ड के बारे में ...
1
2
11 मई 1912 में लुधियाना के समराला में जन्‍में सआदत हसन मंटो का 18 जनवरी 1955 में पाकिस्‍तान के लाहौर में निधन हो गया।
2
3
न्यायालय इसके पक्ष में नहीं दिखता। समिति बनाने का उसका कदम इसी दिशा की ओर इशारा कर रहा है। संभवतः न्यायालय इसमें कुछ संशोधन परिवर्तन को तो वाजिब मानता है लेकिन पूरी तरह कानूनों को रद्द करने को नहीं।
3
4
भाजपा के तेज़ी से उभरते सांसद तेजस्वी सूर्या ने जब कैपिटल हिल कांड के बाद डॉनल्ड ट्रम्प का ट्विटर अकाउंट बंद किए जाने पर रोष ज़ाहिर करते हुए कहा कि टेक कम्पनी का फ़ैसला लोकतंत्रों के लिए सजग होने का संकेत है तो उनकी प्रतिक्रिया को इस डर के साथ ...
4
4
5
एलन मस्‍क ने अपनी कामयाबी की ऐसी मिसाल गढी कि दुनिया हतप्रद है। दुनि‍या इसलिए हतप्रद है कि वही एलन मस्‍क बचपन के दिनों में एक बहुत ही सामान्‍य सा लड़का था, अपने स्‍कूल के दूसरे बच्‍चों से पिट जाता था।
5
6
विवस्वान की ऊर्जा धरती को चैतन्य कर देती है। तृण से लेकर वन तक, जीव से लेकर जगत तक, बूंद से लेकर सागर तक, सभी में ऊष्मा का प्रवाह आरंभ हो जाता है। धरा का पोर-पोर ऊष्मा महसूसता है। गुनगुनी होती धरा गुनगुना उठती है।
6
7
आइए जानते हैं ऐसे ही सवालों के जवाब। समझते हैं कि व्‍हाट्सएप आखि‍र क्‍या करने वाला है, वो कितना सिक्‍योर है और इसकी तुलना में सिग्‍नल और टेलीग्राम किस तरह हमारी निजता का ख्‍याल रखेंगे। जानते हैं इन तीनों मैसेंजर एप में आखिर क्‍या फर्क है।
7
8
दरअसल, व्हाट्सऐप के यूरोपीय विंग ने एक बयान जारी कर कहा कि व्हाट्सऐप के यूरोपीय यूजर्स के लिए जारी नई शर्तों में फेसबुक के साथ यूजर्स का डेटा शेयर करना शामिल नहीं है।
8
8
9
कैफी की कलम का करिश्मा ही था कि वे ‘जाने क्या ढूंढती रहती हैं ये आंखें मुझमें’, जैसी कलात्मक रचना के साथ सहज मजाकिया ‘परमिट, परमिट, परमिट....परमिट के लिए मरमिट’ लिखकर संगीत रसिकों को गुदगुदा गए।
9
10
हर धर्म दान के महत्व को स्वीकार करता है। ऐसे लोगों को दान कभी नहीं करना चाहिए, जो पदार्थ का दुरुपयोग करते हैं, खुद के हित में सोचते हैं, कभी संतुष्ट नहीं होते, दान लेने के बाद दानदाता का अपमान करते हैं। दान देने के बाद कभी भी पश्चाताप नहीं करना ...
10
11
प्र‍ियंका ने अपने पिता की तरह ही लव मैरिज की है। राजनीति में सक्रिय प्रियंका गांधी की लव लाइफ भी बेहद दिलचस्प रही है। उनका विवाह देश के बड़े बिजनेसमैन रॉबर्ड वाड्रा से हुआ है। दोनों ने 18 फरवरी, 1997 को शादी की थी और आज इन्हें एक साथ रहते हुए करीब ...
11
12
वे कहते थे कि लोग उनकी आवाज को ज्यादा से ज्यादा फिल्मों में ही सुनें। इंटरव्यू लेने वाले से वो साफ कह देते थे कि प्लीज, अपना रिकॉर्डर बंद कर लीजिए। जब मैगजीन से उन्हें इंटरव्यू के लिए फोन आता था, तो वो कहते थे कि अगर कवर स्टोरी में जगह मिलेगी तभी ...
12
13
अभी अंतिम रूप से स्थापित होना बाक़ी है कि डोनाल्ड ट्रम्प हक़ीक़त में भी राष्ट्रपति पद का चुनाव हार गए हैं। इस सत्य की स्थापना में समय भी लग सकता है जो कि वैधानिक तौर पर निर्वाचित बायडन के चार वर्षों का कार्यकाल 2024 में ख़त्म होने तक जारी रह सकता
13
14
जो जीवन में दूसरों के प्रति न अपने अधिकार मानता है, न कर्तव्य, वह पशु के समान है- कन्हैया लाल जी मिश्र ‘प्रभाकर’ ने अपनी पुस्तक ‘जिएं तो ऐसे जिएं’में कितना प्रासंगिक लिखा था। क्योंकि न्याय कई बार अन्याय साबित होता है, कई बार दोषी को सजा देने के लिए ...
14
15
हकीकत भी यही है कि ‘दुनिया मेरी मुट्ठी में’ का असल सपना Internet ने ही पूरा किया। लेकिन अब बड़ा सच यह भी है कि इस सेवा का जरिया बने यूजर्स से ही कमाई कर रहे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स न केवल चोरी-छिपे न केवल सायबर डाकैती करते हैं बल्कि यूजर्स डेटा को ...
15
16
भारतीय संस्कृति में शिक्षा सदैव ज्ञान, अनुसंधान, वैज्ञानिक तर्कणायुक्त, प्रायोगिक तौर पर सत्यापित, कौशल आधारित, उच्च जीवन मूल्यों तथा भौतिक एवं अध्यात्मिक उन्नति का मार्ग प्रशस्त करने के साथ ही श्रेष्ठ मानकों का सुस्थापना पर बल देने वाली रही है।
16
17
संस्‍कृत में जल। हिन्‍दी में पानी और साइंटिफिक नाम एच2ओ। ये पानी के नाम हैं। जो हम पीते हैं वो पानी, जो हमारे लिए पवित्र है वो जल और जिसे हम लैब में इस्‍तेमाल कर कोई शोध करें तो वो एच2ओ। लेकिन इसके आगे जाकर हिंदू धर्म और संस्‍कृति में पानी एक आस्‍था ...
17
18
अमेरिका के चरित्र को देखते हुए इस तरह की प्रतिक्रियाएं बिलकुल स्वाभाविक है। हालांकि अब ट्रंप ने कह दिया है कि जो बिडेन को सत्ता हस्तांतरित हो जाएगा। किंतु इससे यह नहीं मानना चाहिए कि अब ट्रंप और उनके समर्थकों ने गलत मान ली है।
18
19
कोई चालीस दिनों से देश के एक कोने में चल रहे आंदोलन, कड़कती ठंड के बीच भी किसानों, महिलाओं और बच्चों की मौजूदगी, अश्रु गैस के गोले और पानी की बौछारें, हरेक दिन हो रही एक-दो मौतें और इतने सब के बावजूद सरकार की अपने ही नागरिकों की बात नहीं मानने की ...
19