रामधुन पर आकर खत्म हुई भोपाल की घुटना तोड़ पॉलिटिक्स!

विशेष प्रतिनिधि| पुनः संशोधित बुधवार, 24 नवंबर 2021 (17:42 IST)

भोपाल। राजधानी भोपाल की सड़कों पर बुधवार को हाईवोल्टेज सियासी ड्रामा नजर आया। भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा के कांग्रेसियों के घुटने तोड़ने वाले बयान से शुरु हुई सियासत आज रामधुन के साथ खत्म हुई। दरअसल भाजपा विधायक के बयान के बाद प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने भाजपा विधायक रामेश्वर के घर जाकर एक घंटे रामधुन करने के ऐलान किया था। वहीं दिग्विजय के इस एलान के बाद भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा ने अपने मालवीय नगर स्थित अपने आवास को भगवा रंग में रंगते हुए भजन कीर्तिन के साथ उनका स्वागत करने की बात कही थी।

आज दिग्विजय सिंह अपने बयान के मुताबिक भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा के घर के लिए निकले लेकिन पुलिस ने उनको रास्ते में ही रोक लिया इसके बाद दिग्विजय सिंह कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ सड़क पर ही 'रघुपति राघव राजा राम'
भजन गाया। पुलिस की ओर से रोके जाने पर दिग्विजय सिंह ने कहा पहले घर बुलाते है फिर पुलिस से रूकवा दिया जाता है यहीं भाजपा है।

उधर दिग्विजय सिंह को पुलिस के द्धारा रोके जाने पर भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा ने कहा है कि हम तो दिग्विजय सिंह और उनके साथियों का इंतजार कर रहे थे, लेकिन वे खुद नहीं आए। हम तो यहां हलवा पूड़ी बनाकर रखे हुए हैं। पुलिस लगाने की बात पर शर्मा ने कहा कि रामभक्तों को कौन रोक सकता है। रामभक्तों के लिए तो खुद भगवान राम रास्ते बनाते हैं।
वहीं इस पूरी घटनाक्रम को लेकर पूर्व मंत्री जय भान सिंह पवैया ने अपनी नाराजगी व्यक्त की है। उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा कि राजनीतिक स्टंट के लिए कृपया राम जी या श्री राम संकीर्तन का उपयोग करने का पाप न कीजिए ,प्रोपेगंडा के लिए कुछ और तरीक़े भी ईजाद कर लीजिए । भोपाल में आज इस पवित्र संकीर्तन को ढाल बनाकर जो कुछ हो रहा है उससे एक हिंदू के नाते मेरा मन तो क्षुब्ध है ।



और भी पढ़ें :