आदिवासी मुद्दे पर हंगामे के साथ विधानसभा के मानसून सत्र का आगाज,कांग्रेस ने छुट्टी नहीं होने को बताया आदिवासियों का अपमान

मध्यप्रदेश में बिरसा मुंडा जयंती पर होगा सार्वजनिक अवकाश : शिवराज सिंह चौहान

Author विकास सिंह| पुनः संशोधित सोमवार, 9 अगस्त 2021 (12:36 IST)
हमें फॉलो करें
भोपाल। विधानसभा के का आगाज हंगामेदार रहा। सदन के पहले दिन की कार्यवाही शुरु होते ही विपक्षी दल कांग्रेस ने पर छुट्टी न घोषित होने पर जमकर हंगामा किया। कांग्रेस विधायकों ने इसे आदिवासियों का अपमान बताते हुए गर्भगह में पहले जमकर हंगामा किया फिर सदन का वॉकआउट किया। वहीं विपक्ष के लगाता हंगामे के बीच सत्र के पहले दिन की कार्यवाही मंगलवार तक के लिए स्थगित कर दी गई।


इससे विश्व आदिवासी दिवस पर कांग्रेस विधायक और पूर्व मंत्री ओमकार सिंह मरकाम आदिवासियों की पारंपरिक वेशभूषा तीर कमान और पीले कुर्ते धोती में विधानसभा पहुंचे। विधानसभा पहुंचने के बाद ओमकार सिंह मरकाम के नेतृत्व में कांग्रेस के आदिवासी विधायक विधानसभा परिसर में लगी गांधी प्रतिमा के सामने धरने पर बैठ गए।

दूसरी ओर आदिवासी दिवस पर विपक्ष के आरोपों का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कांग्रेस सिर्फ आदिवासियों के नाम पर सियासत कर रही है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की घोषणा की प्रदेश सरकार बिरसा मुंडा की जयंती पर आदिवासी दिवस मनाएंगे और अवकाश भी रहेगा। वहीं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के आदिवासी दिवस पर ट्वीट कर लिखा कि कांग्रेस आदिवासी वर्ग के उत्थान और उन्हें उनका हक दिलाने के लिए सदैव संपल्पित है।



और भी पढ़ें :