CM शिवराज बोले- MP की धरती पर नहीं होने दूंगा 'लव जिहाद', यह देश को तोड़ने का षड्‍यंत्र...

पुनः संशोधित बुधवार, 25 नवंबर 2020 (19:49 IST)
भोपाल। (Love Jihad) पर मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने बड़ा बयान दिया है। एक सभा में मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि वे की धरती पर लव जिहाद (Love Jihad) नहीं होने देंगे। यह देश को तोड़ने का षड्‍यंत्र है। यह देश को बांटने का भी षड्‍यंत्र है, इसे किसी भी कीमत पर हम कामयाब नहीं होने देंगे।
ALSO READ:
मध्यप्रदेश में लव जिहाद पर 10 साल और शादी कराने वाले धार्मिक व्यक्ति को 5 साल की मिलेगी सजा
चौहान ने सभा में कहा कि मैं कोई कसर नहीं छोडूंगा, परंतु मैं आपसे चाहता हूं कि ऐसे तत्व जो समाज को तोड़ने की कोशिश कर रहे हैं, चाहे वो धर्मांतरण के नाम पर, चाहे दूसरे नाम पर हों, कुछ लोग संगठन बनाकर उनकी आड़ में अपने स्वार्थों को पूरा करने की कोशिश कर रहे हैं। ऐसे लोगों को अलग-थलग कीजिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं आदिवासियों के साथ शोषण नहीं दूंगा। कई मामले ऐसे आए हैं कि शादी कर ली जाती है और नाम भी नहीं बदला जाता और चुनाव लड़ लिया जाता है। इस तरह निकायों पर कब्जा किया जा रहा है। मैं ऐसा नहीं होने दूंगा।

लव जिहाद पर 10 साल की सजा : आज मंत्रालय में गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने अफसरों के साथ बैठक कर धर्म स्वातंत्र्य विधेयक-2020 के ड्राफ्ट को मंजूरी दे दी। अब इस ड्राफ्ट को दिसंबर के दूसरे सप्ताह में होने वाली कैबिनेट में पेश किया जाएगा और उसके बाद 28 दिसंबर से शुरू हो रहे विधानसभा सत्र में पेश किया जाएगा।

मध्यप्रदेश में लव जिहाद करने पर अब 10 साल की सजा मिलेगी। इस तरह की शादी- निकाह कराने वाले धर्म गुरु, काजी-मौलवी, पादरी को भी 5 साल की सजा होगी। पहले गृहमंत्री ने कहा था कि लव जिहाद पर 5 साल की सजा का प्रावधान किया जा रहा है।



और भी पढ़ें :