जन्मदिन पर मौत का 'उपहार'

इंदौर| पुनः संशोधित शनिवार, 25 जून 2016 (15:05 IST)
यह एक ऐसे युवक की कहानी है, जिसने परिवार के तमाम विरोधों के बावजूद हृदय रोग पी‍ड़ित अपनी सहपाठी से प्रेम विवाह किया। मगर उसी औरत ने अपने एक अन्य प्रेमी की मदद से पति को उसके पर मौत का तोहफा दे दिया। आइए जानते हैं रिश्तों से भरोसा उठाने वाली एक सनसनीखेज कहानी के बारे में...
 
दरअसल, उत्तराखंड के रहने वाले यशपालसिंह बिष्ट ने परिजनों के विरोध के बावजूद 2012 पूजा उर्फ अंजलि भंडारी से प्रेम विवाह किया। दोनों साथ में कॉलेज पढ़ते थे, वहीं प्यार हुआ और फिर शादी कर ली। परिजन इस शादी से नाखुश थे क्योंकि पूजा के हृदय के वॉल्व खराब थे, मगर यशपाल उससे इतना प्यार करता था कि उसने परिजनों की बात नहीं सुनी और यह कहते हुए शादी कर ली कि मैं इलाज करवाऊंगा और शादी को निभाऊंगा।
यशपाल की नौकरी इंदौर की सिप्ला कंपनी में लगी तो वह पत्नी को साथ ले आया। यहां कुछ महीने बाद ही पत्नी का उससे मोहभंग हो गया। उसने कहा कि मुझे यहां की आबोहवा पसंद नहीं आ रही है। इसके बाद यशपाल ने उसे इलाज के लिए भाई-भाभी के पास देहरादून भेज दिया था। यहां पूजा उनके घर के पास ही अलग किराए के कमरे में रहने लगी।
 
यशपाल अपनी पत्नी के पास रहना चाहता था। इसलिए सिप्ला कंपनी से इस्तीफा देकर उसने देहरादून की एक कंपनी में नौकरी ढूंढ ली थी। उसे एक जुलाई को वहां जॉइन करना था, लेकिन करण के इश्क में गिरफ्तार पूजा को अब पति के साथ रहना मंजूर नहीं था। 
 
पूजा ने पूछताछ में पुलिस को यह भी बताया कि उसे अकेले रहना पसंद। यशपाल जब उससे मिलने देहरादून आता था तो वह सीने में दर्द का बहाना बना देती थी, जबकि उसे कोई तकलीफ नहीं होती थी। उसने बताया कि यशपाल ने कभी भी उसे पैसे की कमी नहीं होने दी। एम्स में भी उसका इलाज कराया। वह नहीं चाहती थी कि यशपाल देहरादून लौटे। इसलिए उसने करण के साथ मिलकर उसे रास्ते से हटाने का प्लान बनाया। 20 जून को यशपाल का जन्मदिन था।
 
करण अपने दो साथियों के साथ 19 जून की रात यशपाल से मिलने के लिए आया और राऊ स्थित कमरे पर गया। हालांकि करण की मंशा यशपाल को स्टेशन पर ही मारने की थी, लेकिन वहां उनकी मुलाकात नहीं हो पाई। कमरे जब यशपाल सो गया तो उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी। इसके बाद करण अपने साथियों के साथ वहां से फरार हो गया। पुलिस ने कॉल डिटेल से करण का नंबर निकाला और हिरासत में लेते ही हत्याकांड का खुलासा हो गया। मामले के खुलासे के बाद मृतक की पत्नी पूजा उर्फ अंजलि और उसका फेसबुक प्रेमी करण पुलिस हिरासत में हैं।
 
>



और भी पढ़ें :