गुरुवार, 2 फ़रवरी 2023
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. मध्यप्रदेश
  4. BJP threw stones from poor Muslims in Khargone riots : Digvijay
Written By Author मुस्तफा हुसैन
पुनः संशोधित मंगलवार, 26 अप्रैल 2022 (15:28 IST)

खरगोन दंगों में भाजपा ने फिंकवाए गरीब मुस्लिमों से पत्थर, पूर्व सीएम दिग्विजय का सनसनीखेज आरोप

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री दिग्विजय सिंह ने एमपी की आखरी विधानसभा सीट जावद के मोड़ी गांव से 2023 के विधानसभा चुनाव की रणभेरी बजा दी और भाजपा के हार्ड कोर हिंदुत्व के सामने वे हिन्दू और दलित कार्ड चलते नज़र आए। इस दौरान उन्होंने यह भी कहा कि अगला विधानसभा चुनाव कांग्रेस कमलनाथ की कप्तानी में ही लड़ेगी। साथ ही उन्होंने आरएसएस पर भी जमकर हमला बोला और खरगोन दंगों को लेकर बीजेपी को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि हमारे से पास खबरें यह भी हैं कि गरीब मुस्लिम लड़कों से भाजपा ने पत्थर फिंकवाए, इसकी हम जांच करवा रहे हैं। 
 
दलित के यहां खाया बचा हुआ खाना : पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह 26 अप्रैल की रात जावद के मोड़ी गांव पहुंचे। दलित बाहुल्य मोड़ी गांव में एक मेघवाल परिवार के यहां रात बिताई और जब उनके लिए कांग्रेस कार्यकर्ता खाना लाए तो उन्होंने वह खाना नहीं खाया और स्वयं उस परिवार के किचन में गए और वहा जो खाना बचा हुआ रखा था वो लेकर खाया। सुबह कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ उन्होंने रामधुन पर पूरे गांव में प्रभात फेरी निकाली और फिर वे मोड़ी माता के प्रसिद्ध मंदिर पहुंचे, जहां पूरे विधिविधान के साथ पूजा-अर्चना की। पूजा-पाठ के बाद गांव में आम लोगों से जनसंवाद किया और उनकी समस्याएं जानीं।
 
भाजपा का मकसद हिन्दू-मुस्लिमों को लड़ाओ : पूर्व सीएम ने खास बातचीत में भाजपा पर जमकर हमला बोला और कहा कि बीजेपी का एजेंडा नफरत फैलाने का है। खरगोन दंगों को लेकर कहा कि बीजेपी का मकसद हिन्दू-मुसलमानों को लड़ाओ और दंगा कराओ का है। उन्होंने आरोप लगाया कि हमारे पास ऐसे भी सूचना है कि बीजेपी गरीब मुसलमानों के लड़कों से पत्थर फिंकवाती है, हम इस का पता लगा रहे हैं। 
आरएसएस पर भी आरोप : पूर्व सीएम ने आरएसएस पर भी जमकर हमला बोला और कहा कि जब में सीएम था तब मेरे पास इस बात के प्रमाण थे कि आरएसएस बम फिंकवाती है और बम बनाने की ट्रेनिंग देती है। उन्होंने आरोप लगाया कि देश में मक्का मस्जिद, अजमेर, मालेगांव सहित कई मामले सामने आए हैं, जिनमें आरएसएस का हाथ था। उन्होंने कहा कि सुनील जोशी संघ के थे और वे इनकी पोल खोलने वाले थे, इसलिए उनकी हत्या करवा दी गई। 
 
पूर्व सीएम ने प्रशांत किशोर को लेकर कहा कि उन्होंने (पीके) कांग्रेस के साथ काम करने की इच्छा जाहिर की है, उनका स्वागत है, हम उनके कार्यक्रमों को विस्तार देंगे। उन्होंने यह भी कहा कि मप्र में अगला चुनाव कांग्रेस कमलनाथ की कप्तानी में ही लड़ेगी। इस दौरान उन्होंने महंगाई का मुद्दा भी उठाया और पीडीएस चावल घोटाले मामले में कहा कि इसमें भाजपा नेता तिवारी शामिल है, उसके घर पर बुलडोजर क्यों नहीं चलवाती सरकार? उन्होंने कहा कि भाजपा गरीब का गल्ला खा गई। पूर्व सीएम जावद के ही सुवाखेड़ा में खदान मज़दूरों से भी मिले।