उर्मिला मातोंडकर बोलीं, आलोचनाओं से फर्क नहीं पड़ता, मैं राजनीति में लंबी पारी खेलने के लिए आई हूं

पुनः संशोधित बुधवार, 24 अप्रैल 2019 (16:25 IST)
मुंबई। बॉलीवुड अदाकारा का कहना है कि सोशल मीडिया पर होने वाली 'ट्रोलिंग' (खिंचाई) और निजी हमलों से उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता, क्योंकि वे राजनीति में लंबी पारी खेलने आई हैं। मातोंडकर हाल ही में कांग्रेस में शामिल हुई हैं और से चुनाव मैदान में हैं, जो भाजपा का गढ़ है। अदाकारा ने कहा कि यह चुनाव तय करेगा कि देश किस दिशा में जा रहा है और लोकतंत्र बच पाएगा कि नहीं?
उर्मिला ने कहा कि मैंने कभी कोई काम अधूरा नहीं छोड़ा, चाहे वह मेरी पढ़ाई हो या करियर। राजनीति में आने का फैसला भी मैंने सोच-समझकर किया है और मैं इसमें भी अपना शत-प्रतिशत दूंगी। मेरा इरादा स्पष्ट है।

अभिनेत्री ने कहा कि महिलाओं को समझना चाहिए कि राजनीति में रहने के लिए काफी संयम रखने की आवश्यकता होती है। मैं आलोचना समझती हूं, लेकिन मैं नकारात्मकता व बेहूदगी का भी सामना कर रही हूं। मैंने इन दिनों में कभी खुद के पीड़ित होने की बात नहीं कही। मैं यहां लंबी पारी खेलने के लिए हूं।
मातोंडकर का मुकाबला भाजपा के मौजूदा सांसद गोपाल शेट्टी से है। इस सीट पर 2014 में भाजपा उम्मीदवार शेट्टी ने कांग्रेस के संजय निरुपम को मात दी थी। उत्तर मुंबई में 29 अप्रैल को मतदान होगा। (भाषा)

 

और भी पढ़ें :