तीसरे स्टेट ऑफ द यूनियन भाषण में बोले ट्रंप, अमेरिका का भविष्य 'उज्ज्वल'

पुनः संशोधित गुरुवार, 6 फ़रवरी 2020 (09:52 IST)
अपने तीसरे भाषण में अमेरिकी राष्ट्रपति ने बीते 3 साल की उपलब्धियों की तारीफ की है। 1 घंटे 18 मिनट के भाषण में उन्होंने कहीं भी अपने खिलाफ चल रही की कार्यवाही का जिक्र नहीं किया था।
ALSO READ:
महाभियोग के आरोपों से बरी हुए Donald Trump, सीनेट सदस्य ने बताया लोकतंत्र के लिए काला दिन
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने तीसरे स्टेट ऑफ द यूनियन में कहा कि अमेरिकियों का सपना वापस लौट रहा है, जो उन्होंने देखा था। इस बार स्टेट ऑफ द यूनियन की थीम 'इट्स द ग्रेट अमेरिकन कमबैक'। ट्रंप ने अमेरिकी संसद के दोनों सदनों के साझा सत्र को संबोधित करते हुए अपने पिछले 3 साल के कार्यकाल की उपलब्धियां गिनाईं।
स्टेट ऑफ यूनियन संबोधन में ट्रंप ने कहा कि मैंने जो वादा किया था, वह पूरा किया। ट्रंप के संबोधन के दौरान उनकी पार्टी के नेताओं में गर्मजोशी दिखाई दी। ट्रंप ने अपने 1 घंटे 18 मिनट लंबे संबोधन में महाभियोग की कार्यवाही का जिक्र नहीं किया।

संबोधन से पहले ट्रंप से प्रतिनिधि सभा की स्पीकर नैंसी पेलोसी ने ट्रंप से हाथ मिलाने के लिए हाथ बढ़ाया लेकिन ट्रंप उसे नजरअंदाज करते हुए आगे बढ़ गए। दोनों नेताओं की तल्खी यही नहीं खत्म हुई। ट्रंप के संबोधन के बाद पेलोसी ने उनके संबोधन की कॉपी फाड़ डाली।
ट्रंप ने अपने संबोधन में देश की अर्थव्यवस्था में तेजी लाने के कदमों और विश्वभर में अमेरिका की स्थिति के बारे में बताया। साथ ही उन्होंने देश में कम बेरोजगारी दर का भी जिक्र किया। उन्होंने मेक्सिको और कनाडा के साथ हुई ट्रेड डील की तारीफ भी की। इसके अलावा चीन के साथ अच्छे संबंधों के बारे में उन्होंने कहा कि वह अब तक के सबसे बेहतर दौर में है।

अप्रवासन के मुद्दे पर ट्रंप ने कहा कि दक्षिणी सीमा को सुरक्षित करने के लिए एक अभूतपूर्व प्रयास किए जा रहे हैं, जहां एक लंबी दीवार बनाई जा रही है। विदेश नीति पर ट्रंप ने एक बार फिर दोहराया कि अमेरिका मध्य-पूर्व में जंग की समाप्ति की दिशा में काम कर रहा है। अमेरिका के दुश्मन भाग रहे हैं। अमेरिका की किस्मत चमक रही है और अमेरिका का भविष्य उज्ज्वल है।
ट्रंप ने अपने तीसरे स्टेट ऑफ द यूनियन के संबोधन को नवंबर में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव को ध्यान में रखते हुए दिया। वेनेजुएला के विपक्षी नेता खुआन गुआइदो स्टेट ऑफ द यूनियन में बतौर मेहमान के रूप में मौजूद थे।

अमेरिका ने गुआइदो को दक्षिण अमेरिकी देश वेनेजुएला के राष्ट्रपति के रूप में मान्यता दी है। ट्रंप ने कहा कि निकोलास मादुरो अवैध राष्ट्रपति हैं। वेनेजुएला में उनके अत्याचार को जल्द खत्म किया जाएगा। इस पर डेमोक्रेट्स समेत रिपब्लिकन नेताओं ने गर्माहट के साथ ताली बजाई।
एए/एके (रॉयटर्स, एएफपी)



और भी पढ़ें :