धोनी नहीं, अब भारतीय पिच पर विराट हैं टेस्ट में टीम इंडिया के सबसे सफल कप्तान

Last Updated: गुरुवार, 25 फ़रवरी 2021 (22:34 IST)
अहमदाबाद: कप्तान विराट कोहली को टीम इंडिया की कप्तानी मिली थी जब महेंद्र सिंह धोनी ने टेस्ट से संन्यास लिया था। आज कोहली ने भारतीय पिचों पर जीत दिलाने के धोनी के रिकॉर्ड को तोड़ दिया है। इसका मतलब यह है कि सीरीज में दूसरी जीत से न केवल टीम इंडिया के लिए आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप का टिकट लगभग पक्का कर लिया है बल्कि टेस्ट में विराट कोहली भारतीय पिच पर टीम इंडिया के सबसे सफल कप्तान भी बन गए हैं।

की गुरुवार को दिन रात्रि तीसरे टेस्ट क्रिकेट मैच में पर 10 विकेट से जीत से विराट कोहली ने कप्तान के रूप में घरेलू धरती पर सर्वाधिक टेस्ट जीतने के महेंद्र सिंह धोनी के रिकार्ड को तोड़ दिया। कोहली की कप्तानी में भारत ने अपनी सरजमीं पर जो 29 टेस्ट मैच खेले हैं उनमें से 22 में उसे जीत मिली है। धोनी की अगुवाई में भारत ने घरेलू धरती पर 30 टेस्ट मैचों में 21 जीत हासिल की थी। कोहली 35 जीत के साथ पहले ही भारत के सबसे सफल कप्तान हैं।
यही नहीं सीरीज के बचे एक टेस्ट मैच में कप्तानी करने के साथ ही पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के सर्वाधिक 60 मैचों में कप्तानी करने के भारतीय रिकॉर्ड की बराबरी कर लेंगे। विराट ने अब तक 59 मैचों में भारत की कप्तानी की है जिनमें से उन्होंने 35 जीते हैं, 14 हारे हैं और 10 ड्रॉ खेले हैं। धोनी ने अपनी कप्तानी में 60 मैचों में 27 जीते, 18 हारे और 15 ड्रॉ खेले।

कुल टेस्ट जीत में तो कोहली वैसे भी धोनी से आगे हैं लेकिन भारतीय पिचों पर मिली टेस्ट जीत में आज कोहली ने धोनी को पछाड़ दिया है। कोहली और धोनी के बाद पूर्व भारतीय कप्तान मोहम्मद अजहरूद्दीन इस फहरिस्त में है जिन्होंने भारत को 13 टेस्ट में जीत दिलाई थी। इसके बाद पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली है जिनकी अगुवाई में भारत 10 टेस्ट मैचों में जीता था।

यही नहीं एक कप्तान के तौर पर सबसे ज्यादा टेस्ट जीतने की लिस्ट में भी कोहली धोनी से आगे निकल गए हैं। कोहली ने अब 22 जीतों के साथ पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव वॉ (22 जीत) की बराबरी कर ली है। कोहली से आगे पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग (29 जीत) है। वहीं पहले पायदान पर पूर्व दक्षिण अफ्रीकी कप्तान और बांए हाथ के सलामी बल्लेबाज ग्रीम स्मिथ है जिन्होंने घरेलू पिच पर 30 टेस्ट जीते थे।

हो सकता है कोहली जल्द ग्रीम स्मिथ के रिकॉर्ड को तोड़ दे लेकिन धोनी के रिकॉर्ड को तोड़ने के बाद कोहली का कप्तान के रूप में अगला लक्ष्य स्टीव वॉ से आगे निकलना होगा। चौथे टेस्ट में जीत कोहली को इस लिस्ट में स्टीव वॉ से आगे ले जाएगी। (वेबदुनिया डेस्क)



और भी पढ़ें :